Raj Express
www.rajexpress.co
कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह
कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह|Deepika Pal - RE
मध्य प्रदेश

अपनी ही सरकार को घेरते नजर आए कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह

भोपाल, मध्यप्रदेश : प्रदेश में नेता अपनी ही पार्टी को सवालों के घेरे में घेरते नजर आ रहे हैं, मिल सकता है विपक्ष को बयानबाजी का मौका।

Deepika Pal

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश में सरकार और विपक्ष के बीच प्रदेश के मुद्दों पर एक- दूसरे को तंज कसने का दौर तो जारी रहता ही है, इसी के बीच कांग्रेस सरकार के खेमे से कई नेता अपनी ही पार्टी को सवालों के घेरे में रखते दिखाई दे रहे हैं जिसमें चाचौड़ा से कांग्रेस विधायक और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के भाई लक्ष्मण सिंह ने सरकार की नीतियों पर सवाल खड़े करते हुए बयान दिया है।

क्या दिया कांग्रेस विधायक सिंह ने बयान :

दरअसल चाचौड़ा से कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह ने बयान देते हुए कहा कि,- सरकार ने रेत नीति के तहत चुनाव में वादा किया था कि, पंचायतों को रेत ठेके पर दिया जाएगा फिर इसमें बदलाव क्यों किया गया है। पूर्व सरकार की नीति को अपनाया गया है। वहीं कैबिनेट में आदिवासियों की जमीन बेचने का प्रस्ताव दिया गया था, जिससे आदिवासी नाराज हैं जिनके समर्थन से सरकार बनी उनका हक नहीं खत्म करना चाहिए, फैसला बदल देना चाहिए।

कई मुद्दों पर सरकार को घेरा :

वहीं प्रदेश के किसानों की कर्जमाफी वाले मुद्दे पर कहा कि, जब हम पहला वादा पूरा नहीं कर पाए तो जनता कैसे विश्वास करेगी कि पैसे नहीं है तो वादे भी नहीं करना चाहिए। पोषण आहार के मामले पर कहा कि, सरकार का इसके संबंध में फैसला लेना सही नहीं है पोषण आहार के पैसों में भ्रष्टाचार किया जा रहा है जिसका वी़डियों मेरे पास है।

सांसद प्रज्ञा ठाकुर मामले पर कांग्रेस विधायक गोवर्धन दांगी के आपत्तिजनक बयान देने पर कहा कि, विधायक ने मिर्ची यज्ञ से प्रभावित होकर बयान दिया है ऐसा बयान देना सही नही है।

महाराष्ट्र घटनाक्रम पर दी प्रतिक्रिया :

विधायक सिंह ने महाराष्ट्र के घटनाक्रम और कांग्रेस सरकार द्वारा गठबंधन में शामिल होने पर सवाल करते हुए कहा कि, दु:खद बात है कि अब विचारधारा खत्म हो चुकी है ऐसे में राजनीतिक पार्टियों का आधार क्या रहेगा, हम अगर सरकार बनाएगें तो शिवसेना के सदस्यों को शामिल करना होगा जो 44 सीटें हमें विपक्ष में बैठने के लिए मिली थी वह सरकार में जुगाड़ करने के लिए नहीं मिली थी। साथ ही ट्वीट के जरिए राजनीतिक घटनाक्रम पर व्यंग्य पेश करते हुए ट्वीट किया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।