कृषि कानून को लेकर कांग्रेस करेगी विरोध प्रदर्शन, तो BJP बताएगी फायदे
कृषि कानून पर कांग्रेस का विरोध प्रदर्शन, BJP बताएगी फायदेSocial media

कृषि कानून को लेकर कांग्रेस करेगी विरोध प्रदर्शन, तो BJP बताएगी फायदे

मध्यप्रदेश में किसान विरोधी काले कृषि कानून के खिलाफ कांग्रेस करेगी विरोध प्रदर्शन तो भाजपा किसानों के घर-घर जाकर बताएगी कानून के फायदे।

भोपाल, मध्यप्रदेश। देश की राजधानी दिल्ली से लेकर प्रदेशभर में किसान आंदोलन को लेकर सियासी बयानबाजी का दौर जारी हैं। किसान विरोधी काले कृषि कानून के खिलाफ कांग्रेस दिल्ली बॉर्डर पर बीते 40 दिन से डटे किसानों के समर्थन में कांग्रेस केंद्र सरकार द्वारा लाये गये नये कृषि कानून के विरोध में 20 जनवरी को प्रदेशभर में जंगी प्रदर्शन करेगी। तो वहीं भाजपा किसानों के घर-घर पहुँचकर कृषि कानून से संबंधित फायदे बतायेंगे।

बता दें कि केंद्र सरकार द्वारा लाये गए किसान विरोधी काले कृषि कानून को लेकर प्रदेश कांग्रेस पार्टी ने 7 से 15 जनवरी तक ब्लॉक स्तर विरोध प्रदर्शन का ऐलान कर दिया है। वहीं 20 जनवरी को प्रदेशभर से कांग्रेस नेतागण और कार्यकर्ता बड़ी संख्या में किसानों के साथ जंगी प्रदर्शन करेंगे। पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी का कहना है 20 जनवरी को होने वाला प्रदर्शन किसानों से जुड़े मुद्दों को लेकर होगा। साथ ही केंद्र सरकार के कृषि कानून के खिलाफ भी कांग्रेस किसानों के साथ अपने गुस्से का इजहार करेगी।

इधर, भाजपा प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव के निर्देश पर पार्टी ने अब किसानों के घर घर पहुंचने का प्लान तैयार किया है। कृषि कानून को लेकर पार्टी पर्चे छपवा कर किसानों के घर तक पहुंचकर कृषि कानून के फायदे बताएगी। भाजपा के प्रदेश महामंत्री भगवान दास सबनानी का कहना है कि इस अभियान की शुरुआत हो चुकी है। हर घर तक कृषि कानून की सही जानकारी पहुंचायी जाएगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co