रीवा की घटना को लेकर कांग्रेस ने शिवराज सरकार को घेरा, कहा- आपको दलितों से भी नफरत है
कमलनाथ ने शिवराज सरकार को घेराSyed Dabeer Hussain - RE

रीवा की घटना को लेकर कांग्रेस ने शिवराज सरकार को घेरा, कहा- आपको दलितों से भी नफरत है

भोपाल, मध्यप्रदेश। एमपी के रीवा जिले में मजदूरी के पैसे मांगने पर एक दलित श्रमिक का हाथ धारदार हथियार से काट दिया गया, इस घटना को लेकर प्रदेश कांग्रेस ने सरकार पर निशाना साधते हुए कही ये बात।

भोपाल, मध्यप्रदेश। एमपी के रीवा जिले में मजदूरी के पैसे मांगने पर एक दलित श्रमिक का हाथ धारदार हथियार से काट दिया गया। यह घटना रीवा जिला मुख्यालय से दूर सिरमौर पुलिस थानांतर्गत डोलमऊ गांव की है। इस मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। दूसरी तरफ रीवा की घटना को लेकर प्रदेश कांग्रेस ने सरकार पर निशाना साधते हुए कही ये बड़ी बात।

कांग्रेस ने रीवा की घटना पर सरकार को घेरा :

बता दें कि रीवा की घटना को लेकर मध्यप्रदेश कांग्रेस ने एक बार फिर शिवराज सरकार पर जमकर हमला बोला है। कांग्रेस ने ट्वीट कर कहा- "मध्यप्रदेश में दलितों से क्रूरता जारी, रीवा जिले में मजदूरी मांगने पर दलित मज़दूर का हाथ काटा। शिवराज जी, आपको दलितों से भी नफ़रत है"

कांग्रेस ने रीवा की घटना पर सरकार को घेरा
कांग्रेस ने रीवा की घटना पर सरकार को घेराSocial Media

जानिए क्या है पूरी घटना :

मिली जानकारी के मुताबिक रीवा जिले के सिरमौर थाना क्षेत्र स्थित पडरी गांव में एक दलित श्रमिक ने मजदूरी क्या मांग ली, मालिक ने तलवार से उसका हाथ ही काट दिया। पुलिस का कहना है कि पडरी गांव में शनिवार को यह हादसा हुआ। घटना के बाद एक टीम दलित श्रमिक पप्पू साकेत, उम्र 45 वर्ष, को अस्पताल ले गईं। वहीं, दूसरी टीम उसके गांव गई। वहां दो घंटे की सर्चिंग के बाद कटा हाथ बरामद किया और उसे अस्पताल पहुंचाया। ढाई घंटे के भीतर हाथ काटने वाले गणेश मिश्रा को भी गिरफ्तार कर लिया गया है।

पुलिस का कहना है कि गणेश मिश्रा ने खेत पर नया घर बनवाया है। दलित श्रमिक पप्पू साकेत जब इसकी मजदूरी मांगने गया तो गणेश मिश्रा को गुस्सा आ गया। और वह घर के अंदर गया और तलवार लेकर आ गया। पप्पू जब तक कुछ समझ पाता तब तक गणेश मिश्रा ने हमला कर दिया और हाथ कटकर अलग हो गया। इस मामले में पुलिस ने मिश्रा और उसके भाइयों रत्नेश मिश्रा और कृष्ण कुमार मिश्रा के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 307 और अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति अधिनियम के प्रावधानों के तहत मामला दर्ज किया है और उन्हें गिरफ्तार कर लिया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co