छिंदवाड़ा : शहर के बैठकी बाजार में ठेकेदार कर रहा निर्धारित शुल्क से अधिक की वसूली
छिंदवाड़ा : नगर निगम कमिश्नर को व्यापारियों ने सौंपा ज्ञापन।रवि सोलंकी

छिंदवाड़ा : शहर के बैठकी बाजार में ठेकेदार कर रहा निर्धारित शुल्क से अधिक की वसूली

ठेकेदार के गुर्गो द्वारा निर्धारित दर से अधिक अवैध रूप से डरा धमकाकर 40 से 80 रुपए तक बाजार शुल्क वसूला जाता है, जो छोटे व्यपारियों के साथ बहुत बड़ा अन्याय है, सबकुछ नगर निगम की आड़ में चल रहा है।

छिंदवाड़ा, मध्य प्रदेश। शहर के बैठकी बाजार में निधारित शुल्क से अधिक की वसूली किए जाने का मामला प्रकाश में आया है। छोटे-छोटे व्यपारियों से 40 रुपए से 80 रुपए तक वसूला जा रहा है। बताया जा रहा है कि, ठेकेदार के गुर्गो द्वारा अवैध रूप से डरा धमकाकर बाजार शुल्क वसूल किए जा रहे हैं, जबकि वर्तमान में कोरोना काल के चलते लोगों की हालत खस्ता है। इस संबंध व्यापारियों ने एक ज्ञापन नगर निगम कमिश्नर को सौंपा है।

गौरतलब है कि, शहर सहित आसपास क्षेत्र से बड़ी संख्या में छोटे - बड़े सब्जी विक्रेता अपना व्यापार करने पहुंचते हैं। गांवों से भी थोड़ी बहुत सब्जी व वनोपज लेकर ग्रामीण अपने गुजर बसर के लिये सामान बेचने आते हैं। सब्जी बेचने आए व्यापारियों द्वारा जब रुपए कम करने का कहा जाता है तब उन्हें डराया, धमकाया जाता है और उनकी सब्जियां तक छीन लेने की धमकी दी जाती है, बेचारे सीधे- सादे ग्रामीण पैसे दे देनेे में ही अपनी भलाई समझते हैं। लेकिन यह गरीबों के साथ बहुत बड़ा अन्याय है, जो नगर निगम की आड़ में किया जा रहा है।

नगर निगम द्वारा 6 महीने के लिए नए ठेकेदार को ठेका दिया गया है। वह पिछले ठेके से अधिक वसूली कर रहे हैं, इसमें किसान, व्यापारी, फुटकर व्यापारी वाले सभी परेशान हैं और गांधीगंज में जो सुबह सब्जी बेचने वाले किसान, फुटकर व्यापारी जो दुकान लगाते हैं, वहां कृषि उपज मंडी की निर्धारित दर द्वारा वसूली की जाना चाहिए, या नगर निगम नए ठेकेदार द्वारा 25 रुपए हर सब्जी बेचने वाले फुटकर व्यापारी और छोटे किसान जो सुबह थोड़ा बहुत सब्जी बेचने आते हैं, उनसे भी जबरदस्ती 25 रुपए वसूल किया जाता है। रेलवे स्टेशन क्षेत्र में लगे पान की दुकान वाले भी से 25 रुपए वसूल किये जा रहा है, आखिर क्यों... निगम के निर्धारित दर से अधिक वसूली की जा रही है। 2 दिन से शहर में सभी फुटकर व्यापारी परेशान हैं, अब देखना है कि नगर निगम अधिकारी के कान में जूं रेंगती है या नहीं, या फिर लूट का यह सिलसिला गरीब किसान, फुटकर व्यापारी, सब्जी, फल वालों के साथ लगातार जारी रहेगा।

इनका कहना है :

नगर निगम द्वारा निर्धारित शुल्क है, उससे अधिक यदि नए ठेकेदार द्वारा वसूल किया जा है तो नोटिस जारी कर जबाव मांगा जाएगा। इसके बाद भी शिकायत आती है, तो ठेका निरस्त किया जाएगा।

- हिमांशु सिंह, कमिश्नर नगर निगम, छिंदवाड़ा।

हमारे कर्मचारी द्वारा किसी भी प्रकार की अधिक वसूली नहीं की गई है। जो शिकायत हुई है निराधार है।

- नाहिद कुरैशी, बाजार ठेकेदार

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co