MPPSC परीक्षा आयी सवालों के घेरे में
MPPSC परीक्षा आयी सवालों के घेरे में|Social Media
मध्य प्रदेश

MPPSC परीक्षा आयी सवालों के घेरे में, भील समुदाय ने जताई आपत्ति

मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग में दिए गए प्रश्न से भील समुदाय नाराज! आपको बता दें कि, MPPSC की परीक्षा में भील जनजाति को लेकर किए गए ए‍क सवाल पर बवाल मच गया है।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

हाइलाइट्स :

  • MPPSC के प्रश्नपत्र में भील जनजाति पर किए सवाल पर मचा बवाल

  • MPPSC के पेपर में दिए गए प्रश्न से भील समुदाय नाराज

  • मध्य प्रदेश के सागर में भील समुदाय के लोगों ने किया विरोध

  • पूछा गया भीलों की आपराधिक प्रवृत्ति का एक मुख्य कारण

  • भील जाति शराब के सागर में डूबती जा रही जनजाति है

  • एमपीपीएससी के प्रश्न के बाद खंडवा में हुआ विरोध

राज एक्सप्रेस। मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग (MPPSC) में दिए गए प्रश्न से भील समुदाय नाराज! आपको बता दें MPPSC की परीक्षा में भील जनजाति को लेकर किए गए ए‍क सवाल पर बवाल मच गया है, सोशल मीडिया पर इसे लेकर जिम्मेदारों पर FIR दर्ज करने की मांग उठने लगी है।

मध्य प्रदेश में लोक सेवा आयोग के प्रश्नपत्र में भील जनजाति को लेकर पूछे गए सवालों पर मचा हुआ है बवाल-

परीक्षा में भील जनजाति को लेकर दिया गया था गद्यांश

मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग (MPPSC) की परीक्षा में भील जनजाति को लेकर एक गद्यांश दिया गया था इसके आधार पर कई सवाल पूछे गए थे, गद्यांश के आधार पर प्रश्न पूछा गया और बताया गया कि- भील जनजाति शराब के अथाह सागर में डूबती जा रही है। समाज के लोग गैर वैधानिक और अनैतिक कामों में संलिप्त हो जाते हैं। भीलों की आपराधिक प्रवृत्ति का कारण देनदारियों को पूरा न करना है। भील की आर्थिक विपन्नता का कारण आय से अधिक खर्च करना है।

ये है भील जनजाति पर दिया गया गद्यांश

ये है भील जनजाति पर दिया गया गद्यांश

डॉ आनंद राय ने किया ट्वीट

एट्रोसिटी एक्ट के तहत लोक सेवा आयोग की सचिव रेणु पंत और लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष के विरुद्ध नामजद FIR की जाए, इन मनुवादियों को तत्काल बर्खास्त किया जाए। इन दोनों मनुवादियों की नियुक्ति भाजपा/आरएसएस द्वारा की गई थी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co