कैबिनेट सहकारिता मंत्री गोविंद सिंह
कैबिनेट सहकारिता मंत्री गोविंद सिंह|Deepika Pal - RE
मध्य प्रदेश

मुश्किल में पड़ सकते हैं मंत्री, कहा "पटवारी नहीं करते काम"

इंदौर, मध्यप्रदेश : प्रदेश में कैबिनेट मंत्री जीतू पटवारी द्वारा पटवारियों के खिलाफ दिए विवादित बयान के बाद अब सरकार के एक और मंत्री का बयान इस संबंध में सामने आया है।

Deepika Pal

Deepika Pal

राज एक्सप्रेस। प्रदेश में सरकार और विपक्ष के मध्य किसी ना किसी मुद्दे पर बयानबाजी का दौर तो चलता ही रहता है। कुछ समय पूर्व कैबिनेट मंत्री जीतू पटवारी द्वारा पटवारियों के खिलाफ विवादित बयान देने के बाद अब सरकार के एक और मंत्री का पटवारियों को लेकर बयान सामने आया है। दरअसल प्रदेश की वाणिज्यिक राजधानी इंदौर के सांवेर में किसान सम्मेलन में शामिल होने पहुंचे कैबिनेट सहकारिता मंत्री गोविंद सिंह ने पटवारियों पर निशाना साधते हुए कहा कि, 15 सालों में पटवारी बिगड़ चुके हैं, उनके खिलाफ लगातार शिकायतें मिल रही हैं।

ग्रामीण अंचलों में लगातार मिल रही हैं शिकायतें- कैबिनेट मंत्री गोविंद सिंह :

बता दें कि, इंदौर के सांवेर क्षेत्र में कैबिनेट सहकारिता मंत्री गोविंद सिंह किसान सम्मेलन में शामिल होने पहुंचे थे। उसी दौरान मंच से संबोधित करते हुए मंत्री ने पटवारियों पर निशाना साधते हुए कहा कि, प्रदेश के ग्रामीण अंचलों में पटवारियों के कार्यों को लेकर लगातार शिकायतें मिल रही हैं, इन 15 सालों में पटवारी बिगड़ चुके हैं साथ ही नामांतरण, बंटवारे के नाम पर ये लोग 8-10 हजार रुपयों की मांग रहे हैं, लेकिन काम नहीं कर रहे हैं। इन शिकायतों पर और भ्रष्टाचारियों के खिलाफ एंटी माफिया अभियान, शुद्ध के लिए युद्ध अभियान प्रदेश सरकार द्वारा चलाए जा रहे हैं ताकि, माफियाओं पर लगाम कसी जा सके। इन कार्रवाईयों से कोई भी रसूख बच नहीं पाएगा।

पूरा खजाना खाली कर गई विपक्ष :

वहीं प्रदेश सरकार द्वारा किसानों की कर्जमाफी पूरा ना कर पाने के संबंध में कहा कि, हमारे मुख्यमंत्री कमलनाथ और नेताओं को खजाना खाली मिला जिसे विपक्ष पार्टी भाजपा पूरी तरह से खाली कर गई, कोई भी विभाग को नहीं छोड़ा, विपक्ष ने प्रदेश को घोटालों का गढ़ बनाने के छोड़ा है जिसे हमारी सरकार द्वारा सुधारा जा रहा है।

पहले भी सरकार के कैबिनेट मंत्री पटवारी दे चुके हैं बयान :

इस मामले से पहले भी सरकार के कैबिनेट खेल मंत्री जीतू पटवारी और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह पटवारियों के खिलाफ बयान दे चुके हैं, जिसके कारण पटवारियों द्वारा इस मामले को तूल देकर धरना-प्रदर्शन और हड़ताल की गयी थी। दरअसल मंत्री ने कहा था कि पटवारी जमीन संबंधी या किसी भी कार्य को कराने के लिए सौ फीसदी रिश्वत लेते हैं, जिसके बाद नाराज होकर पटवारी हड़ताल पर बैठ गए थे और मंत्री से माफी मांगने की मांग की थी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co