मध्य प्रदेश सरकार ने बढ़ाई कोरोना कर्फ्यू की अवधि, नहीं थम रहे मामले
मध्य प्रदेश सरकार ने बढ़ाई कोरोना कर्फ्यू की अवधिSyed Dabeer Hussain -RE

मध्य प्रदेश सरकार ने बढ़ाई कोरोना कर्फ्यू की अवधि, नहीं थम रहे मामले

मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार ने बुधवार को प्रदेश में लागू कोरोना कर्फ्यू की अवधि को बढ़ाने का ऐलान कर दिया है। उन्होंने यह ऐलान वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई चर्चा के बाद किया।

मध्य प्रदेश। आज पूरे देश में कोरोना महामारी से कोहराम मचा हुआ है। हालांकि देश में वैक्सीनेशन जारी हैं। वहीं, भारत सरकार लगातार जनता को घर में रहने या अधिक जरूरत पड़ने पर ही घर से निकलने का सुझाव दे रही है। ऐसे हालातों के बीच देश के कई राज्य की सरकारें अपने राज्य में लॉकडाउन, नाईट कर्फ्यू, कोरोना कर्फ्यू को लगातार जारी रखना ही उचित समझ रही है। इसी राह पर चलते हुए आज यानि बुधवार को मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार ने भी कोरोना कर्फ्यू की अवधि बढ़ाने का ऐलान कर दिया है।

मध्य प्रदेश में बढ़ी कोरोना कर्फ्यू की अवधि :

दरअसल, देश में कोरोना का आंकड़ा लगातार बढ़ता चला जा रहा है। अब तो हालत ऐसी हो चुके है कि, देशभर से प्रति दिन 3 लाख से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। भारत के कई राज्यों में कोरोना से होने वाली मौतों का स्तर इतनी तेजी से बढ़ रहा है कि, आज शमशान में तक लोगों को घंटों इंतज़ार करना पड़ रहा है। ऐसे बढ़ाते हुए मामलों को मद्देनजर रखते हुए मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री की शिवराज सिंह चौहान ने अपने राज्य में कोरोना कर्फ्यू को लगातार 7 मई तक लागू रखने का फैसला किया है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह का कहना :

बताते चलें, आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना से रोकथाम करने को लेकर कोविड प्रभारी मंत्रियों, कमिश्नर, कलेक्टर्स, पुलिस महानिरीक्षक, पुलिस अधीक्षक एवं जिले में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के सदस्यों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए चर्चा की। इस चर्चा के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कोरोना कर्फ्यू की अवधि बढ़ाने की जानकारी देते हुए कहा कि,

'कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने से ही कोरोना पर विजय पाई जा सकती है। प्रदेश एक्टिव केसेस में देश में 7 वें नंबर से बेहतर स्थिति में होकर 12 वें नंबर पर आ गया है। परंतु कोरोना का स्वरूप कब क्या रूप ले ले इसलिए हमें संभलकर चलना होगा। प्रदेश में पॉजिटिव मरीजों की दर लगातार घट रही है। मंगलवार को यह दर 22.76 प्रतिशत थी। जो आज घटकर कर 21.71 प्रतिशत हो गई है। इसके साथ ही रिकवरी दर में लगातार वृद्धि हुई है। प्रदेश में कोरोना की रिकवरी दर लगातार बढ़ रही है। गत 23 अप्रैल को रिकवरी दर 80.41 प्रतिशत थी जो बढ़कर 81.75 प्रतिशत हो गयी है। इसके साथ रिकवर होने वाले मरीजों की संख्या में वृद्धि हुई है, जो कल तक कुल 11 हजार 577 थी। आज 14 हजार 156 हो गई है।

शिवराज सिंह चौहान, मुख्यमंत्री मध्य प्रदेश

निरंतर बढ़ रहे पॉजिटिव केस :

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि, 'प्रदेश के एक्टिव प्रकरण में आज पहली बार कमी देखने को मिली है। कल तक 94 हजार 276 एक्टिव प्रकरण थे, जो आज घटकर 92 हजार 773 हो गए हैं। मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश के छिंदवाड़ा, शाजापुर, पन्ना, आगर-मालवा, उमरिया, कटनी, अनूपपुर, गुना, देवास एवं बड़वानी ऐसे 10 जिले हैं जहाँ प्रतिदिन नए पॉजिटिव केसों में कमी आई है। प्रदेश के कुछ जिलों में नए पॉजिटिव केस निरंतर बढ़ रहे हैं। प्रदेश के इंदौर, भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर और उज्जैन में इन केसों में निरंतर वृद्धि हो रही है। राज्य सरकार का प्रयास है कि सभी जिलों में ऑक्सीजन और इंजेक्शन का आवश्यकतानुसार वितरण किया जा सके।'

मध्य प्रदेश में कोरोना की स्थिति :

बताते चलें, भारत के सभी राज्यों में कोरोना की स्थिति काफी ख़राब है। हालांकि कोरोना के आंकड़ें के मुताबिक देखा जाये तो भारत में मध्य प्रदेश का नंबर 12वा है। मध्य प्रदेश में कोरोना का कुल आंकड़ा 5, 38,165 तक पहुंच गया है जबकि, यहाँ कोरोना से मरने वालो की संख्या 5,424 है और वर्तमान में एक्टिव मामलें 92,773 है और ठीक होने वालो की संख्या 4,39,968 है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co