विंध्य की धरा में दस्तक के बाद तेजी से पैर पसारता कोरोना
विंध्य की धरा में दस्तक के बाद तेजी से पैर पसारता कोरोना|Syed Dabeer-RE
मध्य प्रदेश

विंध्य की धरा में दस्तक के बाद तेजी से पैर पसारता कोरोना

कोरोना महामारी ने विंध्य धरा पर अपने पैर पसारना शुरू कर दिया है, विंध्य क्षेत्र के लिए चिंताजनक है गौर करने वाली बात है कि रीवा संभाग में कोरोनावायरस पॉजिटिव मरीजों की संख्या में इजाफा।

Shashikant Kushwaha

राज एक्सप्रेस। कोरोना महामारी ने विंध्य धरा पर अपने पैर पसारना शुरू कर दिया है कोरोनावायरस के संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं जोकि विंध्य क्षेत्र के लिए चिंताजनक है गौर करने वाली बात है की रीवा संभाग में कोरोना वायरस पॉजिटिव का प्रथम मरीज 13 अप्रैल को मिला था जिसके बाद से लगातार को रोना संक्रमित मरीजों की संख्या में इजाफा देखा गया, वहीं विन्ध्य क्षेत्र में अब तक कुल 28 मामले विंध्य क्षेत्र की चर्चा होने पर आपको बताते चलें कि अनूपपुर शहडोल उमरिया भी बिंद क्षेत्र का हिस्सा है। हालांकि संक्रमण के बढ़ते मामलों की रफ्तार अन्य जगहों की अपेक्षा रीवा संभाग में कम है पर चिंताजनक बात यह है कि यहां पर मरीजों की संख्या में इजाफा हुआ है जिस कारण से प्रशासन हाई अलर्ट पर आ गया है।

रीवा संभाग का हाल

बात अगर रीवा संभाग की, की जाए तो सतना जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण कि अब तक 8 मई तक सामने आ चुके हैं, वहीं रीवा जिले की बात की जाए तो रीवा जिले से 8 संक्रमण के मामले सामने आए हैं। साथ ही हम सीधी जिले की बात करें तो यहां पर भी चार मामले सामने आ चुके हैं वही रीवा संभाग का सिंगरौली जिला अब तक कोरोनावायरस के संक्रमण से बचा हुआ है इन मामलों के सामने आने के बाद प्रशासन हाई अलर्ट पर आ चुका है वह पूरी मुस्तैदी के साथ धरातल पर क्या हुआ है जिस तरह से संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं ऐसे में लोगों को भी संक्रमण से बचाव को लेकर सजग रहने की जरूरत है।

बाहर से आए लोगो में मिला था संक्रमण

लगातार बढ़ते हुए संक्रमण के मामलों पर अगर गौर करें तो या मामले संभाग के अंदर विभिन्न क्षेत्रों प्रांतों से आए लोग जो कि संक्रमित थे एवं जिले में आने के बाद यह संक्रमण का आंकड़ा बढ़ते हुए मिला क्षेत्रों के लोग अक्सर रोजी-रोटी के लिए अन्य प्रदेशों की तरफ प्रांतों की तरफ प्रस्थान करते हैं जहां पर अपनी रोजी-रोटी के लिए जद्दोजहद करते नजर आते हैं। लॉक डाउन होने के बाद से जहां इन मजदूरों का काम बंद हो गया, वहीं मजदूरों को रोजी-रोटी का संकट सताने लगा जिस कारण से या मजदूर अपने घरों की तरह पलायन करने लगे मजदूरों के पलायन के साथ-साथ या मजदूर अनजाने में अपने साथ कोरोना संक्रमण भी ले आए।

सिंगरौली जिला अब भी ग्रीन ज़ोन में

बात अगर सिंगरौली जिले की, की जाए तो सिंगरौली जिला जोकि उत्तर प्रदेश एवं छत्तीसगढ़ की सीमा से लगा हुआ जिला है दो अन्य राज्यों के साथ लगे होने के बावजूद अब तक सिंगरौली जिले में इस वायरस की एंट्री नहीं हो सकी वही सिंगरौली जिला प्रशासन किसी तरह की चूक करने के मूड में नहीं है। पूरी सजगता के साथ जिला प्रशासन लगातार क्षेत्र में आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग करवा कर क्वॉरेंटाइन कर रहा है एवं बिना पास के जिले में आने-जाने पर प्रतिबंध है जिसका प्रमाण है कि अब तक इस महामारी का एक भी पॉजिटिव मरीज जिले में नहीं मिला है।

एक मरीज स्वस्थ तो एक की मौत

रीवा संभाग में कोरोना संक्रमण के मामले अब तक जो सामने आ चुके हैं उसमें से कुल 20 मरीज संक्रमित पाए गए थे जिनमें से एक मरीज पूर्णतः स्वस्थ होकर अपने घर जा चुका है वहीं एक मरीज की मौत हो गई थी । बाहर हाल लोगों को अभी शासन के द्वारा बताए नियमों का पालन बिना किसी देरी के साथ शुरू कर देनी चाहिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन व अनावश्यक तौर पर घरों से बाहर नए निकलना एवं बार-बार अपने हाथों को साबुन से धोते रहना आवश्यक है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co