प्रदेश में कोरोना की दस्तक: विदेश से आये 4 भारतीयों में हुई पुष्टि
प्रदेश में कोरोना की दस्तक: विदेश से आये 4 भारतीयों में हुई पुष्टि|Priyanka Yadav - RE
मध्य प्रदेश

प्रदेश में कोरोना की दस्तक: विदेश से आये 4 भारतीयों में हुई पुष्टि

मध्यप्रदेश में भी हो गई कोरोना वायरस की शुरुआत, पहली बार सामने आए कोरोना के मरीज, मचा हड़कंप।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

हाइलाइट्स :

  • मध्यप्रदेश में कोरोना की एंट्री!

  • विदेशों से लौटे 4 लोगो मे कोरोना की पुष्टि

  • जबलपुर में कोरोना के 4 पॉजिटिव केस, मचा हड़कंप

  • थाईलैंड और दुबई से शहर लौटे हैं सभी मरीज

  • चारों को किया जा रहा आइसोलेट

राज एक्सप्रेस। कोरोना वायरस का खतरा दुनिया भर में लगातार बढ़ता ही जा रहा है, जिसके चलते देश के कुछ हिस्सों में पहुंच चुके वायरस के प्रकोप को देखते हुए मध्यप्रदेश में बीते दिनों हाई अलर्ट जारी कर दिया था। कोरोना के बढ़ते खतरे के बीच मध्य प्रदेश के जबलपुर के बड़ी खबर आई है, मध्यप्रदेश में कोरोना की एंट्री विदेशों से लौटे 4 लोगो मे कोरोना की पुष्टि हुई है। इसके बाद हड़कंप की स्थिति निर्मित निर्मित हो गई।

प्रदेश में भी हो गई कोरोना वायरस की शुरुआत :

आपको बता दे कि मध्यप्रदेश में भी कोरोना वायरस के संक्रमण की शुरुआत हो गई। शुक्रवार देर शाम दो परिवार के चार मरीजों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। जबलपुर में कोरोना के चार पॉजिटिव केस सामने आने से हड़कंप मच गया है।

ये चारों प्रकरण जबलपुर के :

मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण की शुरुआत जबलपुर से,सभी मरीज थाईलैंड और दुबई से शहर लौटे है। विदेश से लौटे जबलपुर के दो परिवार के 4 लोग कोरोना संक्रमित वे विदेश यात्रा कर आए। हाल के दिनों में 53 संभावित प्रकरणों में सेंपल जांच के लिए पुणे, नागपुर, भोपाल एम्स और एनआईआरटीएच जबलपुर भेजे गए थे। इनमें से 37 की रिपोर्ट निगेटिव आई है। चार सेंपल जो शुक्रवार को पॉजीटिव पाए गए जबलपुर के हैं। बारह की रिपोर्ट आना अभी शेष है।

मध्यप्रदेश में शुक्रवार तक एक हजार से कुछ अधिक यात्रियों की पहचान हुई है, जो कोरोना प्रभावित देशों से यहां लौटे हैं।

बुलेटिन के अनुसार-

स्वास्थ्य अधिकारी के अनुसार-

यह खबर सही है, कि चार संदिग्ध पॉ़जिटिव आए है लेकिन उनके नामों का खुलासा नहीं किया जाएगा, मेरा आप सबसे निवेदन है कि कोई उनकी फोटो ना खींचे, इसके लिए घबराने की बात नहीं है। पॉ़जिटिव आए मरीजों को मेडिकल कॉलेज शिफ्ट कर इलाज किया जा रहा है। जिनमें से तीन दुबई से लौटे है और एक मरीज जर्मनी से लौटे है। फिलहाल मेरा शहरवासियों से कहना है घबराए नहीं हमारी 16 टीम इस वायरस से निपटने का प्रयास कर रही है।

आपको बता दे कि 18 मार्च को जानकारी मिली थी कि इंग्लैंड से आए 4 लोगों को वायरस की आशंका के चलते राजधानी के एक होटल में आइसोलेटेड किया जा रहा है जिनके बारे में खबर मिली है कि वे इंग्लैंड में कोरोना से पीड़ित मरीज की कार में घूमे थे जिससे उन्हें संक्रमण हो सकता है। इसकी सूचना मिलते ही स्वास्थ्य विभाग समेत भोपाल कलेक्टर तरूण पिथोड़े होटल पहुंच गए थे। फिलहाल चारों संदिग्धों को स्वास्थ्य विभाग की टीम के संरक्षण में रखा गया था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co