निगम ने होटलों में मारा छापा : चिकन तंदूर से लेकर चिकन मसाला जब्त किया
निगम ने होटलों में मारा छापाRaj Express

निगम ने होटलों में मारा छापा : चिकन तंदूर से लेकर चिकन मसाला जब्त किया

इंदौर, मध्य प्रदेश : शहरभर में निगम ने की कार्रवाई, अंडे भी जब्त कर उन्हें नष्ट कराया। 9 और मृत कौवे मृत मिले, अब तक 262 पक्षियों को हो चुकी मौत।

इंदौर, मध्य प्रदेश। नगर निगम द्वारा पूरे शहर में चिकन और अंडे की बिक्री पर रोक लगाते हुए, जब्ती की कार्रवाई की जा रही है। गुरुवार, शुक्रवार के जहां चिकन और अंडे बेचने वालों के खिलाफ कार्रवाई की थी, वहीं शनिवार को शहर की विभिन्न नॉनवेज होटलों में निगम ने छापामार कार्रवाई करते हुए यहां तंदूरी चिकन से लेकर चिकन मसाला और कच्चा चिकन और अंडे जब्त किए।

वहीं शहर में धीरे-धीरे बर्ड फ्लू का दायरा बढ़ता जा रहा है। पूर्व में डेली कॉलेज परिसर में ही मृत कौवे मिल रहे थे, लेकिन अब अन्य स्थानों में भी कौवे मृत मिल रहे हैं। शनिवार को 14 और पक्षियों की मौत हो गई, इसमें डेली कॉलेज के अलावा खंडवा रोड स्थित शुभदीप कॉलेज परिसर में मृत नौ कौवे भी शामिल हैं। इन्हें मिलाकर अब जिलेभर में मृत पक्षियों की संख्या 262 तक पहुंच गई है। उधर, बर्ड फ्लू की आशंका को देखते हुए निगम की टीम ने भी सुबह से मोर्चा संभाला और कई होटलों में पहुंचकर मीट और अंडे जब्त कर नष्ट किया गया। यह होटल संचालक यही कहते रहे कि बचा हुआ माल है, हम नष्ट करने ही वाले थे।

फ्रीज में रखे मिले चिकन और अंडे :

निगम की टीम ने दिल्ली दरबार, पंजाबी जायका, मां कालका, फ्रेश मटन एंड चिकन शॉप, मां कृपा चिकन शॉप सहित शहर के कई होटलों और दुकानों पर पहुंची। यहां ज्यादातर होटलों में टीम को चिकन से बनी सामग्री या फिर फ्रीज में चिकन रखा मिला। टीम ने होटल से माल जब्त कर लिया। उसे नष्ट करने के लिए लेकर रवाना हो गई। बता दें, कलेक्टर मनीष सिंह ने बर्ल्ड फ्लू को देखते हुए एक सप्ताह के लिए इंदौर समेत जिले में मुर्गा-मुर्गी और अंडे या इससे बनी सामग्री को बचने पर रोक लगा दी है। इसके बाद से ही निगम की टीम लगातार दबिश देकर सामग्री जब्त कर रही है। वहीं दूसरी ओर अभी भी कई स्थानों पर चोरी छुपे अंडे और चिकन बेचे जा रहे हैं, लेकिन लगातार खबरें आने के बाद लोग ही जागरुक हो गए हैं और उन्होंने इन्हें खरीदना ही बंद कर दिया है। नगर निगम के वेटनरी चिकित्सक डॉक्टर उत्तम यादव ने बताया कि शहर में पूरी तरह से चिकन अंडे के व्यवसाय को प्रतिबंधित कर दिया गया है। शहर में कहीं से भी चिकन नहीं लाया जा सकता है और ना ही ले जाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि चिकन को पकाकर भी बेचना प्रतिबंधित है। कुछ बड़ी होटलों में इसके बावजूद भी चिकन सर्व किए जाने की सूचना मिली है। चिकन सर्व किए जाने की सूचना पर बड़ी होटलों पर भी कार्रवाई की गई।

अन्य पक्षियों पर भी दिखने लगा असर :

कॉलेज परिसर में मृत मिले 9 कौवे पशु चिकित्सा विभाग के उपसंचालक पीके शर्मा ने बताया कि खंडवा रोड स्थित शुभदीप कॉलेज परिसर में नौ कौवों को लेकर कॉलेज प्रबंधन ने सूचना दी थी। इसके बाद मौके पर पहुंचकर निरीक्षण किया गया। सैंपल लेने के साथ ही दवा का छिड़काव करने के साथ ही मृत कौवों को कॉलेज परिसर में ही दफनाया। इसके अलावा पोल्ट्री फार्म में जाकर भी जानकारी ली गई। वहीं, कॉलेज प्रबंधन ने मामले में सिमरोल थाने पर भी लिखित में जानकारी दी है।

कौवों के साथ बगुला और कोयल की भी मौत कौवों के साथ ही बगुला और कोयल भी मृत मिले हैं। पशु चिकित्सा विभाग के अनुसार शुक्रवार को भी 23 मृत पक्षी मिले थे। नेहरू नगर में 15 कौवे, देपालपुर में कोयल, नगर निगम परिसर के पीछे तीन बगुले और डेली कॉलेज में चार कौवे मरे मिले थे। विभाग की टीम ने इन्हें वहीं दफना दिया। वेटनरी विभाग की टीम लगातार शहर के विभिन्न इलाकों में सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंच रही है। वहीं स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा संक्रमित क्षेत्रों के आसपास के घरों का सर्वे किया जा रहा है और सर्दी-खांसी के मरीजों पर नजर रखी जा रही है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co