कोविड संक्रमण सौ साल की सबसे बड़ी त्रासदी : नरेन्द्र मोदी
पीएम ने जेपी अस्पताल के ऑक्सीजन प्लांट सहित देशभर में 35 प्लांटों का किया वर्चुअल लोकार्पणRaj Express

कोविड संक्रमण सौ साल की सबसे बड़ी त्रासदी : नरेन्द्र मोदी

पीएम मोदी ने कहा, भारतीयों ने जिस बहादुरी से सामना किया उसे दुनिया से बहुत बारीकी से देखा। पीएम ने जेपी अस्पताल के ऑक्सीजन प्लांट सहित देशभर में 35 प्लांटों का किया वर्चुअल लोकार्पण।

भोपाल, मध्यप्रदेश। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि कोविड संक्रमण के रूप में आयी सौ साल की सबसे बड़ी त्रासदी का सामना भारतीयों ने जिस बहादुरी से किया उसे दुनिया ने बहुत बारीकी से देखा है। कोरोना संक्रमण आरंभ होने के समय एक टेस्टिंग लैब थी, जिसे बढ़ाकर 3 हजार लैब का नेटवर्क बनाना, देश और दुनिया को मेड इन इंडिया कोरोना वैक्सीन उपलब्ध कराना, व्यापक स्तर पर टीकाकरण महाअभियान का संचालन और दूर-दराज के क्षेत्रों तक वेंटीलेटर की उपलब्धता सुनिश्चित करना हमारी एकजुटता और सेवा-भाव का प्रतीक है। प्रधानमंत्री मोदी ने एम्स ऋषिकेश से 35 राज्यों तथा केन्द्र शासित प्रदेशों में स्थापित 35 पीएसए ऑक्सीजन प्लांट्स देश को वर्चुअली लोकार्पित किए। प्रधानमंत्री मोदी ने भोपाल स्थित जेपी अस्पताल परिसर में प्रधानमंत्री केयर फंड से निर्मित दो ऑक्सीजन प्लांट का भी वर्चुअल लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जेपी अस्पताल परिसर में स्थापित दोनों ऑक्सीजन प्लांट का बटन दबाकर शुभारंभ किया।

इस दौरान प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण से निपटने में देश की अधिक जनसंख्या और भौगोलिक विविधता बड़ी चुनौती थी। इस चुनौती का भारत की जनता ने मिलकर सामना किया और क्षमताएं विकसित की। देश में कोरोना संक्रमण से पहले 900 मीट्रिक टन लिक्विड ऑक्सीजन का उत्पादन होता था, जिसे मांग बढऩे पर दस गुना बढ़ाने में हम सफल रहे। यह विश्व के लिए अकल्पनीय है।

अब हर जिला ऑक्सीजन प्लांट्स से लैस :

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि "हम भविष्य में कोरोना से लड़ाई के लिए ऑक्सीजन नेटवर्क को तैयार करने और उसे सशक्त बनाने के लिए निरंतर कार्यरत हैं। देश में 1150 ऑक्सीजन प्लांट आरंभ हो चुके हैं। देश का हर जिला पीएम केयर से बने ऑक्सीजन प्लांट्स से लैस हो चुका है। देश को 4 हजार नए ऑक्सीजन प्लांट मिलने जा रहे हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश में 93 करोड़ कोरोना वैक्सीन डोज लगाए जा चुके हैं। जल्द ही हम 100 करोड़ के आंकड़े को पार कर जाएंगे।"

मप्र की वैक्सीनेशन में रिकार्ड उपलब्धि : मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में कोरोना की संभावित तीसरी लहर के मुकाबले के लिए तैयारियां जारी हैं। हमारी कोशिश है कि तीसरी लहर आए ही नहीं। मप्र में कोरोना वैक्सीनेशन में रिकॉर्ड उपलब्धि दर्ज की गयी है। उन्होंने इसके लिए सभी स्वास्थ्य कर्मियों, जन-प्रतिनिधियों, समाजसेवियों, सामाजिक संगठनों और सभी व्यक्तियों, जिन्होंने टीकाकरण में कुछ न कुछ भूमिका निभाई, को बधाई देते हुए कहा कि प्रदेश के जन-भागीदारी मॉडल से कोरोना नियंत्रण में सफलता मिली है। इस मॉडल को अन्य राज्यों द्वारा भी अपनाया जा रहा है। चौहान ने कहा कि टीकाकरण, कोविड अनुकूल व्यवहार और निरंतर टेस्ट से हम कोरोना पर नियंत्रण पाने में सफल हुए हैं। आज प्रदेश में केवल 4 केस हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि मप्र कोरोना से जीत की तरफ आगे बढ़ रहा है, हमें लगातार लड़ते रहना है और कोरोना से जीतते रहना है।

जेपी अस्पताल में लगे ऑक्सीजन प्लांट को एलएण्डटी ने बनाया :

जेपी अस्पताल परिसर में 1000 एलपीएम के दो ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट के वर्चुअल लोकार्पण अवसर पर लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी, सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर,विधायक श्रीमती कृष्णा गौर, आयुक्त जनसंपर्क डॉ.सुदाम खाड़े सहित अन्य अधिकारी तथा गणमान्य नागरिक मौजूद थे। यह प्लांट डीआरडीओ द्वारा आकल्पित और एलएण्डटी द्वारा निर्मित है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co