सवा लाख के इनामी आरोपी जीतू सोनी के बारे में मिले अहम सुराग
सवा लाख के इनामी आरोपी जीतू सोनी के बारे में मिले अहम सुराग|Raj Express
मध्य प्रदेश

सवा लाख के इनामी आरोपी जीतू सोनी के बारे में मिले अहम सुराग

इंदौर, मध्य प्रदेश: करीब सवा लाख इनाम के फरार आरोपी जीतू सोनी के भाई महेंद्र सोनी को क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है। पूछताछ में जीतू सोनी के बारे में अहम सुराग मिले हैं।

Pradeep Chauhan

इंदौर, मध्य प्रदेश। करीब सवा लाख इनाम के फरार आरोपी जीतू सोनी के भाई महेंद्र सोनी को क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है। पूछताछ में जीतू सोनी के बारे में अहम सुराग मिले हैं। पुलिस ने दावा किया है कि जीतू सोनी को भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। जीतू सोनी के अलावा बेटे विक्की, भाई हुकुमसिंह सोनी, भतीजा जिग्नेश एवं लक्की के खिलाफ भी केस दर्ज हैं, ये सभी आरोपी फिलहाल फरार हैं।

महेन्द्र सोनी थाना पलासिया के दो मामलो में जीतू सोनी के साथ आरोपी है। जीतू सोनी से संबंधित आपराधिक प्रकरणों में फरार आरोपियों की तलाश के लिए क्राइम ब्रांच की 6 टीमोा ने गुजरात के राजकोट,अमरेली एवं अन्य सम्भावित स्थानों पर छापे मारे थे। पकड़े गए आरोपी महेन्द्र सोनी ने अमरेली, गुजरात के सांवरकुंडला में फरारी काटी थी । डांस बार होटल माय होम से संबंधित अपराध में जीतू सोनी के साथ महेन्द्र सोनी भी मुख्य आरोपी है। माय होम के दस्तावेजों में महेन्द्र सोनी डायरेक्टर के रुप में दर्ज है।

आईजी विवेक शर्मा एवं डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्र ने इस बहुचर्चित मामले में फरार आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी को लेकर क्राइम ब्रांच को निर्देश दिए थे। इसके बाद एएसपी क्राइम राजेंश दंडोतिया ने 6 टीमों का गठन किया। मुखबिर से टिप मिली कि फरार आरोपी गुजरात में हैं। टीमों द्वारा जिला अमरेली में दो स्थानो पर एवं जिला राजकोट गुजरात में चार स्थानों पर फरार आरोपी जीतू सोनी एवं इससे संबंधित फरार आरोपियों की तलाश के लिए छापे मारे गए। राजकोट गुजरात में जीतू सोनी संबंधित व्यक्तियों के घरों, फ्लेट और फार्म हाउस पर रात्री 3-4 बजे की बीच एक साथ छापे मारे गए। जीतू सोनी व उसके परिवार के आरोपी सदस्य मौके पर नहीं मिले। इसी दौरान एक टीम को सावेरकुंडला जिला अमरेली गुजरात में जीतू सोनी का भाई महेन्द्र सोनी अपने दूर के रिश्तेदार हिम्मतलाल सोनी निवासी नेशडी रोड कात्य निवास सावेरकुंडला में मिल गया। वह विगत 6 माह से यहां पर फरारी काट रहा था।

महेन्द्र सोनी को फरारी कटवाने में जीतू सोनी के मददगारो द्वारा आर्थिक रुप से मदद की जा रही थी । इस संबंध में सूचना का संकलन किया जा रहा है। आरोपी महेन्द्र सोनी को सावेरकुंडला अमरेली से हिरासत में लिया और पूछताछ हेतु हिम्मतलाल सोनी को भी लेकर पलासिया थाने लाया गया है। इन दोनों से पूछताछ की जा रही है। बताते हैं कि महेंद्र सोनी ने जीतू सोनी के बारे में अहम जानकारी दी है। इसके आधार पर पुलिस ने खोजबीन तेज कर दी है।

माय होम पर मारा गया था छापा :

उल्लेखनीय है कि 1 दिसंबर 2019 को इन्दौर पुलिस को यह सूचना प्राप्त हुई थी कि जीतू सोनी व अन्य द्वारा इन्दौर शहर में बिना अनुमति माय होम डांस बार चलाया जा रहा है । यहां पर कई युवतिया बंधक होकर काम कर रही है और उक्त होटल में अवैध गतिविधियां संचालित होना पाया गया। शासन प्रशासन की संयुक्त टीम ने गीता भवन चौराहे के पास बने माय होम होटल में छापे की कार्यवाही की गई । माय होम होटल की तलाशी पर होटल के छोटे छोटे कमरों में 67 लडकियां बेहद गरीब परिवारों की जो दूसरे राज्यों से आई थी,विवश्ता का जीवन जीना पाई गई। माय होम होटल के मालिक व संचालक द्वारा शराब में मदहोश व्यक्तियों के समक्ष नाच गाना करवाकर धन अर्जित करना पाया गया । इनके द्वारा बाउंसर व अन्य व्यक्तियों के माध्मय से इन युवतियों को बंधक बनाकर उनका शौषण करना पाया गया। जिस पर थाना पलासिया में आरोपी मैनेजर जेबर प्रसाद राव, अमित सोनी, जीतू सोनी एवं अन्य के विरुद्ध केस दर्ज हुआ था। विवेचना के दौरान मुख्य अभियुक्त जीतू सोनी के अलावा इनके दोनों भाई हुकुम सोनी, महेन्द्र सोनी को भी आरोपी बनाया गया। उक्त तीनों होटल माय होम के डायरेक्टर के रुप में कार्य कर रहे थे जिसमें से महेन्द्र सोनी को क्राईम ब्रांच की टीम ने गुजरात से हिरासत में लिया है।

सोने के बदले दुकानें दीं लेकिन कब्जा नहीं दिया :

इसके अलावा 7 जनवरी 2020 को आवेदक राजीव थालेसर निवासी बोरीवली ईस्ट मुबंई महाराष्ट्र ने थाना पलासिया में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि, इसके पिता ने जीतू सोनी, हुकुम सोनी के साथ व्यापार किया था। सन 1988 से 1991 तक करीब 51 लाख रुपये का सोना टुकड़ों में दिया था। उक्त राशी के बदले हुकुम सोनी द्वारा ओल्ड पलासिया में स्थित बडवानी प्लाजा की 21 दुकाने 51 लाख रुपये में दी गई। परंतु जीतू सोनी, महेन्द्र सोनी एवं हुकुम सोनी द्वारा इन दुकानों का कब्जा नहीं दिया और जान से मारने की धमकी दी गई। इसी दौरान आवेदक के पिता की मृत्यु हो गई 20 नवंबर 2019 को आवेदक राजीव थालेसर पुन: जीतू सोनी ,हुकुम सोनी, महेन्द्र सोनी से इन्दौर मिलने आया और इन लोगों द्वारा आवेदक को माय होम होटल में बुलाकर बुरी तरह डराया-धमकाया एवं जान से मारने की धमकी दी गई। आवेदक व उसके सहयोगियों के पक्ष में लिखी गई दुकानों पर सोनी परिवार के सदस्यों ने कब्जा कर रखा है। इस रिपोर्ट पर थाना पलासिया में धारा 448, 506 एवं 34 में हुकुम सोनी, जीतू सोनी, महेन्द्र सोनी को आरोपी बनाया गया है। उक्त प्रकरण में भी महेन्द्र सोनी की गिरफ्तारी पलासिया पुलिस के द्वारा की गई है। गिरफ्तार आरोपी महेन्द्र सोनी पिता जगजीवन दास सोनी उम्र 64 साल निवासी, 117 कनाडिया रोड, कर्नाटक स्कूल के पास, कनाडिया रोड से उक्त अपराधों एवं अन्य फरार आरोपियों के संबंध में पूछताछ की जा रही है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co