Raj Express
www.rajexpress.co
बारिश के कारण गांवों का टूट रहा संपर्क
बारिश के कारण गांवों का टूट रहा संपर्क|Pankaj Yadav
मध्य प्रदेश

छतरपुर: बारिश के कारण गांवों का टूट रहा संपर्क, बर्बाद हो गई फसल

छतरपुर, मध्य प्रदेश : बारिश के कारण जिले के कई नदी-नाले उफान पर पहुंच गए हैं लगातार मूसलाधार बारिश के बाद किसानों की फसलें तबाह हो गई हैं।

Pankaj Yadav

हाइलाइट्स

  • बारिश के कारण जिले के कई नदी-नाले उफान पर पहुंचे

  • नदियों के उफान पर आने से गांवों का टूट रहा संपर्क

  • बारिश के कारण किसानों की बची फसल भी हुई नष्ट

  • स्कूल के छात्र-छात्राएं जान जोखिम में डालकर पुलिया पार कर रहे हैं

  • लगातार हो रही बारिश के कारण ग्रामीण काफी परेशान

राज एक्सप्रेस। पिछले दो दिनों से लगातार हो रही बारिश के कारण जिले के कई नदी-नाले ऊफान पर पहुंच गए हैं। नदियों के उफान पर आने से ग्रामीण क्षेत्रों से संपर्क टूट चुका है। बीमारी की हालत में लोग इलाज कराने के लिए तरस रहे हैं। एक ओर हाईवे का वैकल्पिक मार्ग बह जाने से यातायात ठप्प हो गया तो वहीं गांव में पानी घुसने से लोगों के घर धराशायी हो गए हैं। बारिश अब आफत बनती जा रही है।

किसानों की बची-खुची फसल भी नष्ट हो गई है। चौथी बार बह गया हाइवे का वैकल्पिक मार्ग अलीपुरा। बीती शाम से जिले में हो रही लगातार बारिश के चलते नौगांव थाना क्षेत्र के पुतरया और धरमपुरा के बीच स्थित पुलिया बह गई जिससे झांसी-खजुराहो और हरपालपुर मार्ग बाधित हो गया। ज्ञात हो कि पिछले 10 दिनों में यह पुलिया चौथी बार बही है जिससे यातायात बाधित रहा। वहीं स्कूल के छात्र-छात्राएं जान जोखिम में डालकर पुलिया पार करते रहे। जगह-जगह अस्थाई बने पुलों के टूटने से वाहनों की आवाजाही पर ब्रेक से लग गया।

अधिक वर्षा ने किसानों की फसलों को किया बर्बाद:

अलीपुरा से गर्रौली आने वाली बसों एवं भारी वाहनों ने इस मार्ग की छोटी पुलिया के टूटने से वाहन निकालने में परेशानी होती दिखाई दी। वाहनों के ड्राइवरों ने जान जोखिम में डालकर इस बहते पानी से गाड़ियां बाहर निकाली। पुलिस व्यवस्था कहीं भी इन टूटे हुए वाटर प्वाइंटों पर दिखाई नहीं दी। कुछ वाहन नौगांव से गर्रौली, पलेरा होते हुए मऊरानीपुर झांसी पहुंचे तो हरपालपुर की ओर जाने वाले वाहन गर्रौली होते हुए अलीपुरा पहुंचे। अधिक वर्षा ने किसानों की फसलों को बर्बाद कर दिया है अब किसानों को उड़द, तिल और मूंग की फसल नष्ट हो गई है। क्षेत्र के सैकड़ों खेत तालाबों में तब्दील हो गए हैं।

मकान गिरने से मंदिर और पंचायत भवन में जमाया डेरा गर्रौली:

तेज बारिश के चलते ग्राम के कई घरों में पानी घुस गया वहीं कई कच्चे मकान भी धराशायी हो गए। ग्राम की गढ़ी के पास स्थित शिव प्रसाद कुशवाहा का मकान धराशायी हो गया और घर के अंदर रखी सामग्री भी नष्ट हो गई। इससे पहले मोतीलाल अहिरवार और सुशील खरे का मकान भी बारिश के कारण गिर गया था। वर्तमान में मोतीलाल पंचायत भवन में तथा सुशील खरे मंदिर में रहने को मजबूर हैं। पीड़ितों को भी अभी तक प्रशासन की ओर से कोई राहत नहीं मिली है। वहीं ग्राम से गुजरी धसान नदी भी सोमवार को विकराल रूप में दिखी। धसान पुल से मात्र कुछ फिट के नीचे बह रही थी जिसे देखने बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे।

किसानों की फसल बर्बाद
किसानों की फसल बर्बाद
Pankaj Yadav

नाले की सफाई न होने से घरों में घुसा पानी सटई:

बीती रात तेज बारिश के बाद सुबह से लोगों के घरों में पानी घुस गया जिससे काफी नुकसान हो गया है। ग्राम के मुन्ना पाल ने बताया कि, उनके घर में रखा 15 क्विंटल गेहूं पानी भर जाने के कारण खराब हो गया है। इसी तरह किराना दुकान चलाने वाली रमा शिवहरे की दुकान में पानी भरने से काफी नुकसान हुआ है। घर में रखी खाद की दस बोरियां नष्ट हो गई हैं। ग्रामीणों ने बताया कि नाले की सफाई न होने तथा उसमें चेंबर न होने के कारण पानी उनके घरों में घुसा है। उक्त लोग किसानी और मजदूरी पर निर्भर हैं और नुकसान होने के कारण बेहद दु:खी हैं। इस मामले में नगर परिषद सटई के कपिल कुमार मौर्य ने कहा कि नाले की हर सप्ताह सफाई की जाती है और नया नाला भी बनाया गया है लेकिन फिर भी मैं जांच करवाता हूं। समस्या का तत्काल निवारण किया जायेगा।

आकाशीय बिजली गिरी :

मूसलाधार बारिश के बीच नगर के दो स्थानों पर आकाशीय बिजली गिरी जिसकी चपेट में आकर एक महिला और 12 वर्षीय मासूम झुलस गया। हालांकि प्राथमिक उपचार के बाद दोनों की जान खतरे से बाहर बताई गई है। नगर के वार्ड क्रमांक 1 में सुबह करीब 8 बजे धर्मावतार यादव के मकान के बगल में मौजूद बबूल के पेड़ पर बिजली गिरी जिसकी चपेट में आकर घर की छत का एक हिस्सा टूट गया और आंगन में जा गिरा। बिजली गिरने से पूरे मकान में करंट दौड़ गया और घर में मौजूद धर्मावतार यादव के पुत्र यश यादव और ध्रुव यादव को झटका लगा।इनमें से एक को अस्पताल ले जाया गया। साथ ही घर की टीवी, कूलर और पंखे भी खराब हो गए हैं। इसके बाद दोपहर करीब 11 बजे वार्ड क्रमांक तीन के काकुनपुरा रोड पर फिर से बिजली गिरी जिसकी चपेट में आकर 45 वर्षीय महिला अनीता यादव पति दद्दू यादव झुलस गई। बताया जा रहा है कि जिस वक्त बिजली गिरी उस वक्त महिला घर के अंदर काम कर रही थी। घायल महिला को तुरंत अस्पताल पहुंचाया गया जहां उसका प्राथमिक उपचार किया गया और उसकी जान को खतरे से बाहर बताया गया।

ईशानगर-नौगांव मार्ग हुआ प्रभावित:

ईशानगर से नौगांव जाने वाला मार्ग बारिश के कारण प्रभावित हुआ है। नदी-नाले उफान पर होने के कारण पुल-पुलियों से निकलना मुश्किल है। बंधीकला के समीप पठरई की पुलिया के ऊपर से बारिश का पानी जा रहा था, जिससे निर्माणधीन पुलिया की मिट्टी बह गई। लोग जान जोखिम में डालकर निकल रहे हैं। मोटर साईकिल चालक जान की परवाह किए बिना पुलिया के ऊपर पानी होने की दशा में भी पार करके निकल कर जा रहे हैं। रामराजा कंस्ट्रक्शन कंपनी द्वारा निर्माण कार्य किया जा रहा था लेकिन डेढ़ वर्ष बीत जाने के बाद भी काम पूरा नहीं हुआ जिससे ग्रामीण काफी परेशान हैं।

मूसलाधार बारिश से नदी-नाले उफान पर
मूसलाधार बारिश से नदी-नाले उफान पर
Pankaj Yadav