Dabra : बाढ़ प्रभावितों ने एसडीएम कार्यालय का किया घेराव
एसडीएम का घेराव करते बाढ़ पीड़ितराज एक्सप्रेस, संवाददाता

Dabra : बाढ़ प्रभावितों ने एसडीएम कार्यालय का किया घेराव

डबरा, मध्यप्रदेश : बाढ़ सहायता राशि से वंचित बाढ़ प्रभावित गांव के लोगों ने मंगलवार को एसडीएम कार्यालय का घेराव करते हुए सर्वे में मनमानी एवं धांधली जैसे गंभीर आरोप लगाए।

डबरा, मध्यप्रदेश। बाढ़ सहायता राशि से वंचित बाढ़ प्रभावित गांव के लोगों ने मंगलवार को एसडीएम कार्यालय का घेराव करते हुए सर्वे में मनमानी एवं धांधली जैसे गंभीर आरोप लगाते हुए, एसडीएम से बाढ़ प्रभावित गांवों का पुन: सर्वे कराए जाने की मांग की। ग्रामीणों के साथ क्षेत्रीय विधायक भी मौके पर पहुचें और उन्होनें बाढ़ पीड़ितों की समस्याओं से एसडीएम को अवगत कराया। इस दौरान बड़ी संख्या में बाढ़ प्रभावित गांवों से आए लोग मौजूद रहे, जिनमें महिलाएं भी शामिल थीं।

डबरा विकासखंड में बाढ़ से हुई तबाही के बाद कई परिवार मुआवजे से वंचित हैं। मंगलवार को दर्जनभर गांव से आएं बाढ़ पीड़ितों ने सर्वे से सूची बनाने में मनमानी का आरोप लगाते हुए एसडीएम कार्यालय का घेराव किया। बाढ़ पीड़ितों ने बाढ़ प्रभावित गांव के सर्वे के दौरान सर्वे करने पहुंचे दलों पर फर्जी सर्वे का आरोप लगाते हुए कहा कि सर्वे दलों ने अपने चहेतों के नाम सूची में जुड़े हैं और अभी तक में रहने की प्रशासन की ओर से कोई सुविधा नहीं दी गई है। कई बाढ़ पीड़ित ग्रामीण सिर्फ आटे का कट्टा और छत के नाम पर त्रिपाल देने की बात कह रहे थे, वहीं कुछ ग्रामीणों ने सर्वे के लिए पटवारी द्वारा रिश्वत मांगे जाने का आरोप भी लगाया। बाढ़ प्रभावित गांव, लिधौरा, बाबूपुर, कैथोदा, विर्राट, सिली सिलेटा, अजीतपुरा, लडैयापुरा,चांदपुर, विजकपुर, भैंसनारी, गांव से आए बाढ़ पीड़ितों के साथ एसडीएम कार्यालय पहुंचे विधायक सुरेश राजे ने बाढ़ पीड़ितों की सर्वे के लिए एसडीएम को आवेदन दिलवाएं और सर्वे से वंचित रह गए बाढ़ पीड़ितों का पुन: सर्वे किए जाने की मांग एसडीएम से की। बाढ़ प्रभावितों का कहना था कि सूची में नाम रहने के बावजूद स्वीकृत लोगों के खाते में अब तक नहीं भेजा गया है। आरोप लगाया कि जिन लोगों ने घूस दिया उनके खाते में राशि चली आयी है और जिन्होंने घूस नहीं दिया उन्हें इससे वंचित रखा गया है। बाढ़ पीड़ित सिरनाम सिंह विर्राट, रामवरन कुशवाह, बहादुर सिंह, बेताल सिंह बघेल, बलराम, रामहेत बघेल, विशाल, बघेल, सुरेश बघेल, ज्ञानसिंह विर्राट, बहादुर सिंह बल्लू बघेल, मानसिंह बघेल, कैलाश कुशवाह ने बताया कि सर्वे के दौरान उनके नाम नही जोडें गए, जबकि उनका काफी नुकसान हुआ है।

फोटो सेशन के लिए नजर आते हैं भाजपा नेता :

एसडीएम कार्यालय के घेराव करते हुए विधायक सुरेश राजे ने मध्यप्रदेश सरकार द्वारा आवास के चेक वितरित किए जाने पर तंज कसते हुए कहा कि यहां कुछ नहीं है यह केवल फोटो सेशन के लिए है और अब आपकी नजर में आने वाले नगर पालिका चुनाव पर सबकी नजर है, विधायक ने कहा कि आने वाले समय में जनता जनार्दन नकली सरकार को उखाड़ फेंकगी, सरकार को तब समझ में आएगा कि गरीब का पेट काटने का क्या नतीजा होता है। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर दो दिन में बाढ़ पीड़ितों की सुनवाई नहीं हुई तो कांग्रेश के द्वारा उग्र प्रदर्शन किया जाएगा।

इनका कहना है :

डबरा अनुविभाग में बाढ़ आपदा के कारण कई गांव बाढ़ ग्रसित हैं जिनका सर्वे करा लिया गया है और जो भी बाढ़ प्रभावित रह गए हैं उनका सर्वे कार्य किया जा रहा है। आज कुछ गांव के बाढ़ पीड़ितों के आवेदन मिले हैं जिनके आधार पर सर्वे टीम के द्वारा सर्वे किया जाएगा और जो पात्र होंगे उन्हें निश्चित ही सूची में जोड़ा जाएगा और जो भी सुविधा शासन के द्वारा दी जा रही है वह दी जाएगी।

प्रदीप शर्मा, एसडीएम, डबरा

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co