विवेचना करती पुलिस
विवेचना करती पुलिस|Gaurav Kapoor
मध्य प्रदेश

उधार दिये रुपये लेने निकले युवक की 5 दिनों बाद चम्बल में तैरती मिली लाश

एक तरफ कोरोना संकट से प्रदेश जूझ रहा है दूसरी और आपराधिक घटनाओं ने भी रप्तार पकड़ रखी है। बेलगाम कानून व्यवस्था के चलते प्रदेश में कानून के आगे अपराधियो के हौसले बुलंद दिखाई दे रहे हैं।

Gaurav Kapoor

खाचरौद, मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश जिला उज्जैन की तहसील खाचरौद से 7 किलोमीटर दूर स्थित ग्राम छोटा चिरोला से 5 दिन पूर्व रामेश्वर पिता शंकर लाल परिवार जनों को बताकर निकला था कि समरथ को दिये 60,000 रुपए लेने जा रहा हूं देर रात तक रामेश्वर अपने घर नहीं लौटा तो रामेश्वर की पत्नी राजू बाई भाई राहुल ने खाचरौद थाने मे 23/7/2020 को गुमशुदगी कि रिपोर्ट दर्ज कराई। परिवार और रिश्तेदार रामेश्वर को ढूंढने निकले तो बड़ावदा थाना अंतर्गत ग्राम भानपुरा ओर मालाखेड़ी के बीच मे एक पुलिया के नीचे से रामेश्वर की मोटरसाइकिल मिली और बनवाड़ा के पास चंबल नदी के पास में खाई से गुमशुदा रामेश्वर की लाश बरामद हुई हैं आशंका हैं कि रामेश्वर की हत्या कर शव को फेंका गया है 5 दिनों के बाद बॉडी पूरी तरह से गल चुकी थी।

पुलिस ने शुरू की विवेचना :

परिवार जनों ने आज से तीन दिन पूर्व हत्या की आशंका जताई थी और राजएक्सप्रेस को जानकारी देकर घटनाक्रम बताया था कि घर से निकलने के बाद रामेश्वर को समरथ नामक युवक ने 60,000 देने के लिये खाचरौद नगर से 15 किलोमीटर दूर चापानेर के जंगलों में बुलाया था रुपये लेने अकेला रामेश्वर नहीं गया था उसके साथ गाँव का एक अन्य युवक जो लेनदेन की लिखापढ़ी में ज़मानतदार था जिसका नाम भेरू बताया जा रहा है उसे भी आखरी बार खाचरौद और घिनोदा में परिवार के सदस्यों ने रामेश्वर के साथ देखा था। रुपये लेने निकला रामेश्वर तो घर नही पहुँचा लेकिन समरथ और भेरू सही सलामत घर पहुँच गए। गुमशुदगी दर्ज होने के बाद खाचरौद पुलिस ने भी समरथ से पूछताछ की थी लेकिन पुलिस के सामने एक और कहानी प्रेमप्रसंग की भी थी इसलिये पुलिस भी असमंजस स्थिति में थी और जांच में जुटी थी। आखिर वही हुआ जिसकी आशंका परिजनों ने पुलिस के सामने जताई थी आखिरकार गुमशुदा रामेश्वर की बाइक और बॉडी तो मिल गई हैं लेकिन इस हत्याकांड के आरोपी कौन हैं और किसलिये हत्या की गई है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co