इंदौर : एमटीएच में मरीज की मौत, परिजनों ने लगाए लापरवाही के आरोप

इंदौर, मध्य प्रदेश : एमटीएच कोविड केअर सेंटर में एक बार फिर मरीज की मौत के बाद परिजनों ने लापरवाही के आरोप लगाए हैं, कहा- न पानी मिला और न ही आक्सीजन मिली सही तरीके से।
इंदौर : एमटीएच में मरीज की मौत, परिजनों ने लगाए लापरवाही के आरोप
एमटीएच में मरीज की मौत, परिजनों ने लगाए लापरवाही के आरोपSocial Media

इंदौर, मध्य प्रदेश। एमटीएच कोविड केअर सेंटर में एक बार फिर मरीज की मौत के बाद परिजनों ने लापरवाही के आरोप लगाए हैं। उनका आरोप है कि यहां ऑक्सीजन ठीक से नहीं मिलने से मरीज की मौत हुई है। इतना ही नहीं मरीज को वार्ड में पानी तक नहीं दिया गया।

राजेश निषाद, निवासी महू को परिजन घबराहट होने पर महू अस्पताल लेकर पहुंची। यहां पर डॉक्टर ने जांच कर बताया कि इनका हार्ट कमजोर है। राजेश की पत्नी कर्मिता ने बताया कि इसके बाद हम शनिवार देर रात पहले एमवाय अस्पताल लेकर पहुंचे। यहां पर डॉक्टरों ने एक्सरे, सीटी स्कैन, ईसीजी की। इसके बाद हमें एमटीएच जाने को कहा।

फोन पर कहा- मुझे बिलकुल भी आराम नहीं :

कर्मिता ने बताया कि राजेश को एमटीएच में भर्ती कर दिया, हमें अंदर नहीं जाने दिया गया और कहा कि आप लोग घर जाओ, यहां मरीज का बेहतर तरीके से ध्यान रखा जाएगा। दूसरे दिन रविवार को दोपहर में हम वापस अस्पताल मिलने पहुंचे, तो फिर अंदर नहीं जाने दिया। फोन पर ही हाल पूछे तो कहा कि मुझे बिलकुल आराम नहीं है। मुझे यहां ना तो ऑक्सीजन दी जा रही है ना ही कोई बोतल चढ़ाई गई। यहां तक की मुझे बाथरूम तक नहीं करवाया गया। मैं पानी के बिना तड़प रहा हूं, मुझे यहां पानी तक नहीं दिया जा रहा है। मेरा दम घुट रहा है। इस संबंध में अस्पताल में शिकायत की तो इस पर मैडम ने किसी को कॉल कर कहा कि चेक करो। इस पर उसने उधर से कहा कि मरीज ने खुद ही आक्सीजन निकाल दी है, जबकि मेरे पति कह रहे थे कि मैंने नहीं निकाली है। वे मुझसे कह रहे थे कि तुम पानी लेकर आ जाओ। मैं जाने लगी तो मैडम ने मुझे रोक दिया। परिजनों का आरोप है कि मौत के बाद यहां रिपोर्ट में भी गड़बड़ी की गई। पहले हमें जो रिपोर्ट दी गई उसमें 80 साल उम्र बताई गई थी, जबकि असल उम्र 40 साल थी। हमने जब उम्र को लेकर बहस की तो हमें दूसरी रिपोर्ट दी, जिसमें उम्र 40 साल और रिपोर्ट निगेटिव थी। वहीं, पहले जो रिपोर्ट दी थी, उसमें पॉजिटिव और उम्र 80 साल लिखी थी, वहीं अस्पताल प्रबंधन का कहना है कि अस्पताल में सभी मरीजों का ध्यान रखा जा रहा है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co