'अग्निपथ' के लिए तैयार है भारतीय सेना, रक्षामंत्री ने किया योजना का ऐलान
'अग्निपथ' के लिए तैयार है भारतीय सेना, रक्षामंत्री ने किया योजना का ऐलानSocial Media

'अग्निपथ' के लिए तैयार है भारतीय सेना, रक्षामंत्री ने किया योजना का ऐलान

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने 14 जून 2022 को तीनों सेनाओं यानी जल थल और वायु सेना के सेनापतियों के साथ अग्निपथ योजना का ऐलान किया। जिसके तहत सेना में 17.5-21 वर्ष तक की आयु के युवाओं को भर्ती की जाएगी।

जबलपुर, मध्य प्रदेश। भारत का हमेशा से ही एक नारा काफी लोकप्रिय रहा है 'जय जवान जय किसान' इसलिए भारत की सरकार हमेशा ही भारतीय सेना का विशेष ध्यान रखती है। इसी कड़ी में अब भारत के रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने 14 जून 2022 को तीनों सेनाओं यानी जल थल और वायु सेना के सेनापतियों के साथ अग्निपथ योजना का ऐलान किया। जिसके तहत भारतीय सेना में 17.5 से 21 वर्ष तक की आयु के युवाओं को भर्ती किया जाएगा।

रक्षामंत्री की तीनों सेनाओं के लिए घोषणा :

दरअसल, भारत के रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने देश की तीनों सेनाओं के सेनापतियों के साथ अग्निपथ योजना की घोषणा की है। बता दें, अग्निपथ योजना 17.5 से 21 वर्ष तक की आयु के युवाओं के लिए है। इस योजना के तहत भारतीय सेना में भर्ती की जाएगी | यह अग्निपथ योजना तीनों सेनाओ मे युवाओं की भर्ती हेतु एक परिवर्तनकारी सुधार है जो मानव संसाधन प्रबंधन के लिए एक आदर्श है। यह सैनिको की भविष्य की लड़ाई हेतु यह उन पहलों में से एक है जो भारतीय सैना को भविष्य मे तैयार लड़ाकू बल को अनेक चुनौतियों को सामना करने हेतु सक्षम बनाती है। इस योजना के तहत भर्ती होने वालो युवाओं को अग्निवीर के नाम से जाना जाएगा।

विस्तृत भर्ती प्रक्रिया :

अग्निपथ योजना की विस्तृत भर्ती प्रक्रिया देश के सभी हिस्सो के युवाओं को भर्ती के लिए समान अवसर उपलब्ध कराएगी। इस योजना के तहत भर्ती हुए युवाओं को सेवाकाल प्रशिक्षण सहित चार साल का होगा। अग्निपथ योजना शिक्षित युवाओं को भर्ती हेतु प्रोत्साहित करेगी तथा उन्हें आकर्षक प्रोत्साहन राशि प्रदान करेगी तथा कौशल विकास में मदद करेगी। भारतीय सेना में सर्वोत्तम अग्निवरों का चयन स्थायी सेना हेतु किया जाएगा जो संगठन को मजबूत बनाएगा। अग्निवीरो के चार वर्ष के सेवाकाल की समाप्ती के पश्चात एक बार सेवा निधि पैकेज प्रदान किया जाएगा जो उनके भविष्य के सपनों को पूरा करने में मददगार साबित होगा।

अग्निपथ योजना पर की खुलकर बात :

बताते चलें, अग्निपथ योजना को लेकर जनरल एम के दास, परम विशिष्ट सेवा मेडल, सेना मेडल बार, विशिष्ट सेवा मेडल जनरल ऑफिसर कमांडिंग, मध्य भारत एरिया ने सभी मीडिया कर्मियों के साथ विस्तार से बातचीत करते हुए बताया कि, 'मानव संसाधन प्रबंधन एक विकासकारी प्रक्रिया है, जिसे प्रत्येक संगठन को परिवर्तनशील वातावरण के अनुसार अपनाया जाना चाहिए। युवा भारत की युवा शक्ति पूरी देशभक्ति व जोश के साथ मातृभूमी की सेवा करना चाहता है, भर्ती की यह परिवर्तित प्रक्रिया युवा की आकांक्षाओं को पूरा करेगा। अग्निवीरो के कार्यकल की समासी के पश्चात जब वह समाज का हिस्सा बनेंगे तब समाज में राष्ट्र निर्माण प्रक्रिया में महत्वपूर्ण भूमिका प्रदान करेंगे।'

गौरतलब है कि, भारतीय सेना में अग्निवीर सेवाकाल के दौरान ओपेरेशनल व जोन ऑपरेशनल दोनों में तैनाती हेतु संगठन में एकीकृत होंगे। यह परिवर्तन भारतीय सेना मे ताकत व आत्मविश्वास लाएगा तथा भविष्य में ऐसे और अधिक मजबूती, अधिक योग्य व प्रगति लाएगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co