अब साँची के सीईओ को हटाने की मांग
अब साँची के सीईओ को हटाने की मांग|Priyanka Yadav - RE
मध्य प्रदेश

साँची दूध मिलावट ने पकड़ा तूल : सीईओ को हटाने की मांग

भोपाल, मध्यप्रदेश : 'शुद्ध के लिए युद्ध' अभियान में अब भोपाल दुग्ध संघ के सीईओ केके सक्सेना को हटाने की मांग की जा रही है।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश में 'शुद्ध के लिए युद्ध अभियान' जोर-शोर के साथ चल रहा है। शुद्ध के लिए युद्ध अभियान के तहत अभी तक मिलावट करने वाले कई लोगों पर FIR दर्ज हो चुकी है और कई पर रासुका की कार्रवाई कर उन्हे जेल भेजा जा चुका है। मध्यप्रदेश में मिलावटखोरी और नकली सामान पर रोकथाम कर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इसके बावत बाकायदा सरकार ने 'शुद्ध के लिए युद्ध अभियान' तक चला रखा है पर मिलावटखोर बाज नहीं आ रहे हैं।

सांची दूध के संघ सीईओ को हटाने भोपाल में छिड़ी मुहिम

मिली जानकारी के अनुसार लोगों ने सोशल मीडिया पर भोपाल दुग्ध संघ (सांची दूध) के संघ सीईओ केके सक्सेना को हटाने की बात छिड़ी है, वहीं आरटीआई एक्टिविस्ट अजय दुबे ने ट्विटर पर भोपाल दुग्ध संघ (सांची दूध) के संघ सीईओ को हटाने की मांग की है।

आरटीआई एक्टिविस्ट अजय दुबे ने ट्विटर
आरटीआई एक्टिविस्ट अजय दुबे ने ट्विटर Social Media

आपको बता दें कि आरटीआई एक्टिविस्ट अजय दुबे ने अपने ट्वीट में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ, भोपाल संभाग की पहली महिला संभाग आयुक्त कल्पना श्रीवास्तव और कलेक्टर तरुण पिथौड़े को टैग किया है। सांची दूध में हो रही मिलावट को देखते हुए भाजपा के पूर्व विधायक एवं पूर्व जिला अध्यक्ष सुरेंद्र नाथ सिंह भी महामहिम राज्यपाल को ज्ञापन सौपेंगे।

बताया जा रहा है कि दूध चोरी व मिलावट मामले में मध्यप्रदेश में बीजेपी के पूर्व विधायक सुरेन्द्र नाथ सिंह के नेतृत्व में सांची दूध संघ पर विरोध प्रदर्शन किया था। वह मिलावटी दूध के खिलाफ प्रदर्शन करने पहुंचे थे। जिसके बाद पूर्व विधायक सुरेंद्र नाथ सिंह पर भी कार्रवाई की गई थी।

मिलावट का मामला हुआ था उजागर

दूध में मिलावट मामले में कमिश्नर के निर्देश के बाद पुलिस टीम ने मिलावटखोरों पर बड़ी कार्रवाई की थी। जिसमें सांची दूध में भी मिलावट का मामला उजागर हुआ था। इस मामले के उजागर होने के बाद पूर्व विधायक सुरेंद्र सिंह अपने समर्थकों के साथ संघ के सामने धरना करने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने मिलावटखोरों को फांसी देने की मांग भी की।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co