Raj Express
www.rajexpress.co
तहसील में महीनों से लंबित पड़े जमीनों के सीमांकन
तहसील में महीनों से लंबित पड़े जमीनों के सीमांकन|Vinod Mishra
मध्य प्रदेश

छतरपुर : तहसील में महीनों से लंबित पड़े हैं जमीनों के सीमांकन

छतरपुर, मध्यप्रदेश: कमिश्नर के निर्देश के बावजूद भी समय पर नहीं निपट रहे राजस्व संबंधी कार्य, कछुआ चाल से चल रही है राजस्व की कार्यवाहियां।

Vinod Mishra

हाइलाइट्सः

  • तहसील में महीनों से लंबित पड़े जमीनों के सीमांकन

  • कछुआ चाल रही है राजस्व की कार्यवाहियां

  • तहसील में 73 मामले लंबित पड़े हैं

  • 15 अक्टूबर तक राजस्व अमले को कार्यवाही पूरी करने के दिए निर्देश

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश के छतरपुर जिले में सागर कमिश्नर आनंद शर्मा के बार-बार दिए जा रहे निर्देशों के बाद भी जिले में राजस्व सम्बन्धी कार्यों की हालत पतली है। सिर्फ छतरपुर तहसील क्षेत्र में ही महीनों से दर्जनों आवेदकों के सीमांकन जैसे मामूली काम भी लंबित पड़े हैं। कछुआ गति से चल रही राजस्व की इन कार्यवाहियों के कारण लोगों का असंतोष लगातार बढ़ रहा है। राजस्व सम्बन्धी काम-काज समय पर न होने के कारण क्षेत्र में तनाव की स्थिति भी निर्मित हो जाती है। इस आशंका के बावजूद राजस्व अधिकारी इसे गंभीरता से नहीं ले रहे।

चक्कर लगा रहे आवेदक, लंबित पड़े हैं 73 मामले :

छतरपुर तहसील में इस वित्त वर्ष के अंतर्गत लगभग 73 किसानों एवं आम लोगों के द्वारा जमीनों के सीमांकन सम्बन्धी आवेदन प्रस्तुत किए गए लेकिन महीनों से उक्त आवेदन धूल खा रहे हैं। कभी पटवारियों की हड़ताल तो कभी तहसीलदारों का सामूहिक काम बंद आंदोलन राजस्व सम्बन्धी काम-काज को रोकता रहा तो कभी रिश्वत की लालसा के कारण सीमांकन जैसे काम लंबित पड़े हैं। छतरपुर तहसील से मिली जानकारी के मुताबिक तहसील अंतर्गत 5 मंडलों में कुल 73 मामले लंबित हैं जिनमें से 39 मामले सिर्फ महेबा क्षेत्र के शामिल हैं।