Raj Express
www.rajexpress.co
76वां मेला जलविहार महोत्सव की आरती में शामिल हुए श्रद्धालु
76वां मेला जलविहार महोत्सव की आरती में शामिल हुए श्रद्धालु|Pankaj Yadav
मध्य प्रदेश

छतरपुर: 76वां मेला जलविहार महोत्सव की आरती में शामिल हुए श्रद्धालु

छतरपुर, मध्य प्रदेश : बुन्देलखण्ड क्षेत्र में मेला जलविहार का विशेष महत्व मेला जलविहार महोत्सव का 76वां दिवस मनाया जा रहा है 16 सितम्बर यानि आज पुन: जवाबी कीर्तिनों का आयोजन की किया जा रहा है

Pankaj Yadav

हाइलाइट्स

  • बुन्देलखण्ड क्षेत्र में मेला जलविहार का विशेष महत्व

  • अनेक स्थानों पर मेला जलविहार का आयोजन उत्साहपूर्वक

  • मेला जलविहार में आज मुख्य अतिथि होंगे विधायक आलोक चतुर्वेदी

  • फूलों से सजेगा मां का दरबार, लगेगा 56 भोग

  • 16 सितम्बर को पुन: जवाबी कीर्तिनों का आयोजन

  • 17-18 सितम्बर को मयूर नृत्य और रंगारंग लोकगीतों की प्रस्तुति

राज एक्सप्रेस। भारत में बुन्देलखण्ड की पहचान, हमारी संस्कृति से है, जिसके अलग-अलग रंग क्षेत्र में देखने को मिलते हैं, हम एक साथ मिलकर सभी धर्मों के त्यौहार सौहार्द पूर्ण वातावरण में मनाते हैं,जो अपने आप में एक मिसाल है, विविधता एवं एकता ही बुन्देलखण्ड की पहचान है। बुन्देलखण्ड क्षेत्र में मेला जलविहार का विशेष महत्व है इसलिए अनेक स्थानों पर इनका आयोजन उत्साहपूर्वक किया जाता है। उक्त विचार मां अन्नपूर्णा जलविहार महोत्सव की पांचवी शाम महाआरती में शामिल होने के उपरांत मंच से मुख्य अतिथि के रूप में पधारे भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता प्रवीण नापित ने व्यक्त किये।

मेला जलविहार के अवसर पर कई विशिष्ट अतिथि शामिल हुए, महाआरती में ग्रेनाईट इण्डिया के डायरेक्टर सुनील असाटी सपरिवार सम्मिलित हुये। मेला जलविहार में आज 16 सितम्बर को मुख्य अतिथि के तौर पर क्षेत्रीय विधायक आलोक चतुर्वेदी शामिल होंगे तथा समाजसेवी एवं वरिष्ठ पत्रकार हरि अग्रवाल मंचासीन रहेंगे। जलविहार महोत्सव समिति महासचिव दिलीप सेन ने बताया कि मंच के माध्यम से जवाबी कीर्तन का जबरजस्त मुकाबला नीलम विश्वकर्मा लवकुशनगर एवं शंभू हलचल कानपुर के बीच हुआ जो बिना जीत-हार के निर्णय के सुबह सम्पन्न हुआ।

कार्यक्रम का संचालन समिति उपाध्यक्ष सौरभ तिवारी द्वारा किया गया। श्रोताओं की विशेष मांग पर दिनांक 16 सितम्बर सोमवार को पुन: जवाबी कीर्तिनों का आयोजन की किया जा रहा है, प्रसिद्ध कीर्तन गायिका क्रांतिमाला कानपुर तथा दादा रतीराम हरदोई के बीच जवाबी मुकाबला होगा तथा कल 17 सितम्बर को मयूर नृत्य की प्रस्तुति होगी,साथ ही 18 सितम्बर को पं.देशराज पटैरिया एण्ड पार्टी के द्वारा रंगारंग लोकगीतों की प्रस्तुति मंच से दी जाएगी।

मां अन्नपूर्णा का दरबार फूलों से सजाया

दस दिवसीय जलविहार महोत्सव में मां अन्नपूर्णा मेला जलविहार समिति के द्वारा प्रतिदिन रात्रि 8.30 बजे से भव्य महाआरती का आयोजन किया जा रहा है जिसमें बड़ी संख्या श्रद्धालुजन उपस्थित हो रहे हैं। आज दिनांक 16 सितम्बर को मां अन्नपूर्णा का दरबार फूलों से सजाया जायेगा जिसमें मंदिर प्रांगण सहित सम्पूर्ण विमानों का पुष्प मालाओं से आकर्षक श्रृंगार किया जायेगा साथ ही माता रानी को 56 भोग का महाप्रसाद लगाया जायेगा। समिति अध्यक्ष राकेश रूसिया ने श्रद्धालुओं से आग्रह किया है जो भी भक्त माता को प्रसाद भेंट करना चाहते हैं,वह प्रसाद मंदिर में पहुंचा सकते हैं।