Raj Express
www.rajexpress.co
धसान नदी उफान पर
धसान नदी उफान पर|Pankaj Yadav
मध्य प्रदेश

छतरपुर: धसान नदी उफान पर, लहचूरा डैम के 17 में से 14 गेट खुले

हरपालपुर, छतरपुर: लगातार मूसलाधार बारिश एवं नदी में जलस्तर बढ़ने से क्षेत्र के सरसेड़, चपरन गांव में नदी किनारे स्थित खेत पानी में डूब गए व किसानों की फसलें तबाह हो रही हैं।

Pankaj Yadav

राज एक्‍सप्रेस। एमपी-यूपी सीमा पर स्थित धसान नदी कहर ढा रही है। छतरपुर जिले में हो रही लगातार मूसलाधार बारिश एवं टीकमगढ़ जिले स्थित बांध सुजारा से पानी छोड़े जाने के चलते नदी में जलस्तर बढ़ने के कारण क्षेत्र के सरसेड़, चपरन गांव में नदी किनारे स्थित खेत पानी में डूब गए।

डैम के 17 में 14 गेट खुले :

सोमवार को खजबा पुल का 8 फीट के करीब पानी डूब जाने से गांव का संपर्क टूट गया। ग्रामीण रेल्वे लाइन पर बने पुल को पार कर हरपालपुर आ सके। लहचूरा डैम में क्षमता से अधिक पानी भर गया, जिस कारण सिंचाई विभाग महोबा के अधिकारियों द्वारा डैम के 17 में 14 फाटक एक-एक कर खोलते हुए 1 लाख 28 हज़ार क्यूबिक पानी छोड़ा।

नदी किनारे के गांव में अलर्ट जारी :

उधर यूपी प्रशासन द्वारा काशीपुरा लिलवा गॉव सहित नदी किनारे के गांव में अलर्ट जारी कर लोगों को नदी के आस-पास न जाने की सलाह दी है। वहीं धसान नदी का पानी चपरन गांव में घुसने से ग्रामीणों में दहशत है।

किसानों की फसलें तबाह
किसानों की फसलें तबाह
Pankaj Yadav

उड़द-मूंगफली की फसलें बर्बाद :

किसान मानवेन्द्र कुशवाहा ने बताया कि, 4 बीघा में बोई गई उसकी उड़द-मूंगफली की फसलें बर्बाद हो गई हैं। अब उनके समाने रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो गया है। इसी तरह किसान मूलचंद्र कुशवाहा ने बताया कि, नदी की बाढ़ से उनके खेतों में मूंगफली, उड़द, मूंग की फसल नष्ट हो गईं।