मप्र आदिम जाति कल्याण मंत्री मीना सिंह ने कलेक्टर्स से की चर्चा
मप्र आदिम जाति कल्याण मंत्री मीना सिंह ने कलेक्टर्स से की चर्चा|Social Media
मध्य प्रदेश

कोरोना की स्थिति पर वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए कलेक्टर्स से की चर्चा

मध्यप्रदेश आदिम जाति कल्याण मंत्री मीना सिंह ने कोरोना संक्रमण की स्थिति पर चार जिलों के कलेक्टर्स से की चर्चा।

राज एक्सप्रेस

राज एक्सप्रेस

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश आदिम जाति कल्याण मंत्री मीना सिंह ने बुधवार को कोरोना वायरस के संक्रमण और लॉकडाउन की स्थिति को लेकर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए देवास, धार, आगर-मालवा और रायसेन कलेक्टर्स से चर्चा की। चर्चा में क्राईसेस मैनेजमेंट ग्रुप के सदस्य भी शामिल रहे।

आधिकारिक जानकारी के अनुसार, मंत्री सिंह ने जिला कलेक्टर्स से उनके जिले में प्रवासी मजदूरों के रोजगार, व्यवसायिक गतिविधियों के संचालन, समर्थन मूल्य पर गेहूँ खरीदी की व्यवस्था, दवा एवं चिकित्सा उपकरणों की उपलब्धता के बारे में जानकारी प्राप्त की। मंत्री ने कलेक्टरों से कहा कि जिले में कोरोना से बचाव के लिये जन-सामान्य से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया जाये।

उन्होंने जिला कलेक्टरों से बैंकिंग गतिविधियों के बारे में भी जानकारी ली। 17 मई के बाद जिलों में लॉकडाउन को जारी रखने के संबंध में उनकी सुझाव लिए गए हैं। पुलिस अधीक्षकों ने जिले में कानून व्यवस्था की जानकारी से अवगत कराया। बैठक में ग्रामीण क्षेत्रों में संचालित मनरेगा के कार्यों के बारे में भी चर्चा हुई। उन्होंने मनरेगा के माध्यम से जरूरतमंदों को अधिक से अधिक रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के निर्देश भी दिये।

प्रमुख सचिव आदिम जाति कल्याण पल्लवी जैन गोविल ने जिला कलेक्टरों से उनके जिले में स्वास्थ्य कार्यक्रमों विशेषकर बच्चों के टीकाकरण को नियमित किये जाने के लिये कहा है।क्राईसेस मैनेजमेंट ग्रुप के सदस्य ने संक्रमण के दौर में बैंकों में छोटी राशि के भुगतान के लिये लगने वाली भीड़ से बचने के लिये डोर-टू-डोर व्यवस्था करने के संबंध में सुझाव दिये। बैठक में स्वयंसेवी संगठनों के माध्यम से किये जा रहे कार्यों की भी जानकारी दी गयी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co