एमपी के इन जिलों में डॉक्टरों की हड़ताल
एमपी के इन जिलों में डॉक्टरों की हड़तालSocial Media

Doctors Strike: एमपी के इन जिलों में डॉक्टरों की हड़ताल से चरमराई स्वास्थ्य सेवाएं- मरीज हो रहे परेशान

मध्यप्रदेश। प्रदेश में डॉक्टरों की हड़ताल शुरू हो गई है, जिसके बाद उन्होंने इमरजेंसी सेवाएं भी बंद कर दी है, ऐसे में कई मरीज परेशान हो रहे है।

मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश में डॉक्टरों की हड़ताल जारी है। प्रदेश के कई जिलों से सुबह से ही डॉक्टरों की हड़ताल शुरू हो गई है, जिसके बाद उन्होंने इमरजेंसी सेवाएं भी बंद कर दी है। डॉक्टरों की हड़ताल से स्वास्थ्य सेवाएं चरमरा गई है। ओपीडी में डॉक्टर के ना बैठने से कई मरीज परेशान हो रहे है।

जयारोग्य अस्पताल में डॉक्टरों की हड़ताल

मिली जानकारी के मुताबिक, ग्वालियर के डॉक्टरों की हड़ताल शुरू हो गई है, डॉक्टरों ने काम बंद कर दिया है और एक साथ हड़ताल पर बैठ गए है। जिसकी वजह से जयारोग्य अस्पताल में सैकड़ों मरीज़ों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। प्रोग्रेसिव मेडिकल टीचर एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. का कहना है कि प्रशासनिक अधिकारी की नियुक्ति शासन का गलत निर्णय है। जिसको लेकर प्रदेश के सभी 13 मेडिकल कालेज के डाक्टर अनिश्चित कालीन हड़ताल पर हैं।

इंदौर- भोपाल में डॉक्टरों की हड़ताल-

इधर महाराजा यशवंत राव अस्पताल के सामने एमटीए इंदौर का प्रदर्शन शुरू। प्रदेश के शासकीय मेडिकल कॉलेजों में राजस्व अधिकारी की नियुक्ति का विरोध में काम बंद कर मेडिकल टीचर प्रदर्शन रहे है। वहीं भोपाल में मेडिकल कालेज में चिकित्‍सा शिक्षकों के हड़ताल में जाने से ओपीडी में मरीजों और उनके स्वजनों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। इससे जीएमसी से संबद्ध हमीदिया अस्‍पताल में स्‍वास्‍थ्‍य सेवाएं चरमरा गई हैं।

आखिर क्यों प्रदेशभर में डॉक्टर्स कर रहे है हड़ताल? जानें...

बता दें, प्रदेश के सरकारी मेडिकल कालेजों में प्रशासकीय अधिकारी के तौर पर राज्य प्रशासनिक सेवा, पुलिस सेवा या वन सेवा के अधिकारियों को प्रतिनियुक्ति पर पदस्थ करने की सरकार की तैयारी का उग्र विरोध शुरू हो गया है। चिकित्सा शिक्षक संघ से जुड़े सदस्‍यों ने सोमवार को कालेजों में काली पट्टी बांधकर काम करते हुए विरोध जताया था।

एमपी के इन जिलों में डॉक्टरों की हड़ताल
MP में डॉक्टरों की हड़ताल: कमलनाथ ने कहा- आम जनता के हित में उनकी मांगों पर विचार करे सरकार

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co