शिक्षा मंत्री की बहू ने लगाई फांसी, पारिवारिक विवाद में उठाया कदम
शिक्षा मंत्री की बहू ने लगाई फांसीसांकेतिक चित्र

शिक्षा मंत्री की बहू ने लगाई फांसी, पारिवारिक विवाद में उठाया कदम

भोपाल, मध्यप्रदेश : प्रदेश के शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार के घर मंगलवार को उनकी बहू ने आत्महत्या कर ली। मंत्री की 22 वर्षीय बहू सविता परमार ने उनके गांव में स्थित मकान में फांसी लगाई है।

भोपाल, मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश के स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार की बहू सविता परमार 22 वर्ष ने फांसी लगाकर मौत को गले लगा लिया है। घटना का कारण पारिवारिक बताया जा रहा है। यह घटना कालापीपल तहसील के पोंचानेर गांव में घटी है। मृतका के परिजनों ने इस घटना की पुष्टि की है। इस घटना के बाद पोंचानेर गांव में सन्नाटा है। हाईप्रोफाइल मामला होने के कारण कोई भी कुछ बोलने की हिम्मत नहीं कर रहा है। शव को पोस्टमार्टम के लिए सुबह भेजा जाएगा। अभी तक किसी प्रकार का कोई सुसाइड नोट सामने नहीं आया है।

पारिवारिक विवाद हो सकता है वजह :

मध्य प्रदेश के स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार की बहू ने शाजापुर जिले में फांसी लगाकर जान दे दी है। कारणों का खुलासा नहीं हो सका है। सूत्र बताते हैं कि सुसाइड की वजह पारिवारिक विवाद हो सकता है। प्राप्त जानकारी के अनुसार शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार की 22 वर्षीय बहू सविता परमार ने करीब शाम सात बजे फांसी लगा ली। जब उसे फंदे से उतारा गया, तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। सविता की शादी तीन साल पहले इंदर सिंह परमार के बेटे देवराज के साथ हुई थी। मंत्री का परिवार इस संबंध में कुछ भी बोलने से बच रहा है। पुलिस भी फिलहाल चुप ही है। घटना के बाद से कालापीपल क्षेत्र के पोंचानेर गांव में सन्नाटा है। सविता का मायका शाजापुर जिले के ही ग्राम हड़लायकलां में है। घटना के समय मंत्री परमार भोपाल में थे, जबकि बेटा देवराज मोहम्मदखेड़ा में एक समारोह में गया हुआ था।

कोई कुछ बोलने को तैयार नहीं :

शुजालपुर से विधायक एवं प्रदेश के शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार के घर का मामला होने के कारण गांव से लेकर पुलिस के अधिकारी भी कुछ बोलने को तैयार नहीं है। फिलहाल मंत्री के घर पुलिस बल तैनात है। सुबह शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जाएगा। मंत्री और उनकी बहू के मायके के लोग भी पहुंच गए हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.