Raj Express
www.rajexpress.co
नहीं मिला 25 वर्षो से बोनस
नहीं मिला 25 वर्षो से बोनस|Social Media
मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश: नहीं मिला 25 वर्षों से बोनस, कहाँ गयी करोड़ो की राशि?

भोपाल, मध्य प्रदेश : एक साल में ही बंद कर दी सुविधा कर्मचारियों ने कहा-ब्यूरोक्रेट को सुविधाएं तो हमें क्यों नहीं?

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

राज एक्सप्रेस। मध्य प्रदेश में कोई ढाई दशक पहले बंद हुए दिवाली बोनस को लेकर एक बार फिर कर्मचारियों की पीड़ा सामने आई है। सेवकों का आरोप है कि उन्हें ब्यूरोक्रेट की तरह कोई सुविधाएं नहीं है। बोनस राशि ही त्यौहार मनाने का सशक्त माध्यम था, जो एक सोची समझी रणनीति के तहत बंद किया गया। सरकार के समक्ष लगातार पक्ष रो गये, लेकिन कोई ध्यान नहीं दिया गया।

25 साल से नहीं मिली दिवाली बोनस की खुशी

अभी तक करोड़ों रूपये राजकोष में ही हजम हो गये हैं। जबकि विधानसभा चुनाव के समय मौजूदा सरकार के संगठन ने कहा था कि इस सुविधा को पुन: प्रारंभ किया जाएगा। मप्र में शासकीय सेवकों की मानें तो करीब 25 वर्ष पूर्व 1995 में केन्द्र के समान राज्य में भी कर्मचारियों को बोनस देने की प्रथा प्रारम्भ की गई थी। तृतीय एवं चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों को यह लाभ देने का कदम उठाया गया था। वर्ष 1996 तक तो बोनस मिलता रहा। इसके उपरांत एरियर्स को अचानक सरकार ने बंद करने का निर्णय ले लिया।