अतिक्रमण अधिकारियों का गरीबों पर जेसीबी का पंजा, रसूखदारों पर मेहरबानी
अब तीन महीने बाद अधिकारी अतिक्रमण हटाने दोबारा सड़क पर उतरे हैं। राज एक्सप्रेस संवाददाता

अतिक्रमण अधिकारियों का गरीबों पर जेसीबी का पंजा, रसूखदारों पर मेहरबानी

अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई सिर्फ फल-सब्जी ठेलों वालों को हटाने और दुकानों के छज्जों को हटाने तक ही सीमित हैं, पक्के अतिक्रमण और मुख्य बाजार में स्थायी समस्या को दूर करने पर अधिकारियों का ध्यान नहीं।

होशंगाबाद, मध्यप्रदेश। कोरोना संक्रमण के बाद मार्च माह में नगर पालिका और प्रशासन ने अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की थी। कोरोना संक्रमण बढ़ने की वजह से कार्रवाई रुक गई। अब तीन महीने बाद अधिकारी अतिक्रमण हटाने दोबारा सड़क पर उतरे हैं। विगत दो दिनों से चल रहे अतिक्रमण अभियान पर आरोप भी लग रहे हैं लोगों का कहना है कि कुछ पहुंच रखने वालों को अभियान के कर्ताधर्ता देखते भी नहीं है और सामान्य दुकानदारों पर जोर दिखाया जाता है।

यह कार्रवाई फल-सब्जी ठेलों वालों को हटाने और दुकानों के छज्जों को हटाने तक ही सीमित हैं। पक्के अतिक्रमण और मुख्य बाजार में स्थायी समस्या को दूर करने पर अधिकारियों का ध्यान नहीं है। बार-बार अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई के बाद भी लोग दोबारा अतिक्रमण कर लेते हैं।

व्यवस्था के लिए सख्ती का पालन हो :

शहर की सबसे प्रमुख समस्या सड़कों पर बाजार लगना है जो यातायात को प्रभावित करता है लेकिन इस व्यवस्था के लिए बिना भेदभाव शहर के सभी मार्गो पर नियमित अतिक्रमण अभियान चलना चाहिए। वरना यह अभियान दो दिन की चांदनी समान हो जाएंगे।

कब तक असहाय लोगों पर प्रशासन जबरन डंडा चलाता रहेगा :

जिला कांग्रेस विचार विभाग के अध्यक्ष भूपेश थापक ने कहा कि जहाँ सब्जी बाजार लगना तय किया गया था वहाँ पर शराब पर सट्टा लिखने वालों का बोलबाला हैं, आखिर कब तक इस तरह गरीबों और असहाय लोगों पर प्रशासन जबरन डंडा चलाता रहेगा। यह कार्रवाई फल-सब्जी ठेलों वालों को हटाने और दुकानों के छज्जों को हटाने तक ही सीमित क्यों हैं।

इनका कहना है :

नालों पर अतिक्रमण कर्ताओं को अतिक्रमण हटाने की समझाइश दी जा रही है। अभी फिलहाल किसी पर भी सख्त कार्रवाई नहीं की है। यह कार्रवाई बाजार सहित अन्य क्षेत्रों में भी जारी रहेगी।

फरहीन खान, एसडीएम

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co