ग्वालियर : ऊर्जा मंत्री ने 6 दिन आम लोगों से दूर रह योगा कर ली नई ऊर्जा
ऊर्जा मंत्री ने 6 दिन आम लोगों से दूर रह योगा कर ली नई ऊर्जाSocial Media

ग्वालियर : ऊर्जा मंत्री ने 6 दिन आम लोगों से दूर रह योगा कर ली नई ऊर्जा

ग्वालियर, मध्य प्रदेश : कैरवा कोठा के पास अज्ञात स्थान पर 6 किया ध्यान योग। लगातार जनता के बीच रहने के कारण थकान महसूस कर रहे थे।

ग्वालियर, मध्य प्रदेश। कांग्रेस में रहते हुए मंत्री रहे और जब सत्ता परिवर्तन हुआ तो फिर भाजपा सरकार में भी मंत्री है। ऐसे में लगातार दो साल तक बिना किसी अवकाश के काम पर रहने से ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह थकान महसूस करने लगे थे और जनता की सेवा करने के लिए नई ऊर्जा लेने के लिए 'योगा' (विवाश्ना) ध्यान योग में 5 जनवरी को चले गए थे। जब वह एकांतवास में जा रहे थे तो उन्होंने अपने समर्थकों के लिए सोशल मीडिया पर लिखा था कि 10 जनवरी तक उनसे न मिलने का काम करें और न फोन लगाएं। सोमवार को वह अपने योगा प्रक्रिया से बाहर आकर अब जनता की सेवा के लिए वापिस लौट आए हैं।

प्रद्युम्न सिंह बिना रुके और बिना आराम किए लगातार जनता की सेवा करने वाले मंत्री के रूप में जाने जाते हैं। उनका रुटीन बन गया था कि जब भी भोपाल से ग्वालियर आते थे तो भले ही आधी रात हो वह घर जाने की बजाए जनता के दरवाजे घटघटाकर उनकी समस्याएं सुनने के लिए पहुंचते रहे है। उनकी इस तरह की दिनचर्या के कारण कई बार खास समर्थकों ने भी उनको समझाया कि काम करने का समय निर्धारित कर लो जिससे आपको भी आराम करने का समय मिल सके, लेकिन मंत्री का कहना था कि मुझे जनता ने काम के लिए चुना है आराम के लिए नहीं। वर्ष 2018 के विधानसभा चुनाव के बाद से लगातार दिन रात काम करने की थकान उनके शरीर पर दिखने लगी थी और यही कारण है कि उनको काम करने के लिए नई ऊर्जा की जरूरत थी तो वह 5 जनवरी को एकाएक योगा करने के लिए अज्ञातवाश में चले गए।

भाजपा की रीति नीति सीखना भी था जरूरी :

ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर की राजनीति कांग्रेस से शुरू हुई थी और उसमें रहते हुए उन्होंने काफी संघर्ष किया, जिसके कारण कांग्रेस की रीति नीति उनके रंग में भरी हुई है। ऐसे में भाजपा में जाने के बाद उनको इस पार्टी की रीति नीति सीखने के लिए भी ध्यान योग करने की जरूरत महसूस हुई साथ ही जनता की सेवा के लिए नई ऊर्जा की भी चाहत थी, यही कारण है कि 6 दिन के योगा में चले गए और अज्ञातवाश में जाने से पहले उन्होंने जनता की समस्याओं के लिए अपने भोपाल एवं ग्वालियर कार्यालय के नंबर जारी कर कहा था कि अगर किसी को कोई जरूरत हो तो उक्त नंबरो पर बात कर अपनी बात नोट करा दें।

कैरवा कोठी के पास अज्ञात स्थान पर लगाया ध्यान योग :

ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर के अचानक अज्ञातवाश में जाने के बाद राजनीतिक हलको में कई तरह की चर्चाएं होने लगी थी। कुछ लोग कहने लगे कि शायद मंत्री नाराज हैं, लेकिन जब इसको लेकर हकीकत का पता किया गया तो पता चला कि मंत्री नाराज नहीं बल्कि जनता की सेवा करने के लिए नई ऊर्जा लेने अज्ञातवाश में गए हैं। सूत्र का कहना है कि ऊर्जा मंत्री ने अज्ञातवाश के दौरान कैरवा कोठी के पास एक अज्ञात स्थान पर एकांत में समय बिताकर ध्यान योग करने का काम किया। ध्यान योग से काम करने की क्षमता में इजाफा होता है साथ ही शरीर के अंदर जो थकान होती है वह भी दूर हो जाती है। ऊर्जा मंत्री तोमर का कहना है कि अब वह जनता की सेवा के लिए पहले की तरह पूरी तरह से तैयार है, मैं 6 दिन के लिए पूरी तरह से एकांतवाश मेें नई ऊर्जा लेने के लिए गया था। अज्ञातवाश में रहने के दौरान भी जो भी समस्याएं आमजन की उनके कार्यालय पर पहुंचती थी उनको निपटाने का काम भी मैंने किया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co