सिंधिया के लिए EOW बैकफुट पर
सिंधिया के लिए EOW बैकफुट पर|Social Media
मध्य प्रदेश

सत्ता ने पलटा पांसा, सिंधिया के लिए EOW बैकफुट पर

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में बीजेपी सरकार आई एक्शन मोड पर, पुराने मामलों पर शुरू की कार्रवाई।

Deepika Pal

Deepika Pal

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश में एक ओर जहां कोरोना के बढ़ते खतरे को रोकने के लिए सफलतम प्रयास किए जा रहे वहीं नवोदित बीजेपी सरकार भी एक्शन मोड अपनाते हुए कार्य करने में जुट गई है। इस बीच ही बीजेपी सरकार ने पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को बड़ी राहत दी है जिसमें उनके EOW से जुड़े मामले पर कार्रवाई रद्द कर दी है और मामला बंद कर दिया है।

मामले की जांच के बाद लिया फैसला :

इस सम्बन्ध में, मध्यप्रदेश पुलिस की अपराध शाखा (EOW) के आला अधिकारी के अनुसार, शिकायतकर्ता से सुरेन्द्र श्रीवास्तव ने उनके और उनके परिजनों के खिलाफ शिकायत की थी कि एक रजिस्ट्री के दस्तावेजों में फेरबदल कर ग्वालियर के महलगांव में स्थित 6000 वर्ग फुट की जमीन उन्हें बेची गई। उनकी शिकायत पर कार्रवाई करते हुए कारणों और तथ्यों को सत्यापित करने के लिए अपने ग्वालियर कार्यालय को आदेश दिए। जिसके बाद मामले में नेता सिंधिया और उनके परिजनों के खिलाफ मामले को बंद कर दिया है। साथ ही बताया कि पहली बार ये शिकायत 24 मार्च 2014 में की गई थी जिस पर 6 साल बाद कारवाई बंद की है।

वर्ष 2014 में हुआ था मामला दर्ज :

बताया जा रहा है कि, इस मामले में नेता सिंधिया पर 10 हजार करोड़ रुपए की जमीन अपने कब्जे में लेकर बेचने का आरोप था जिसकी शिकायत वर्ष 2014 में सुरेन्द्र श्रीवास्तव द्वारा EOW से शिकायत की गई थी। जिसमें शिकायतकर्ता ने मामले को दोबारा खोलने के लिए आवेदन दिया था जिसके बाद पूर्व कांग्रेस सरकार द्वारा सिंधिया पर जल्द कार्रवाई करने की संभावना जताई जा रही थी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co