घोटाले में 3 पर FIR दर्ज
घोटाले में 3 पर FIR दर्ज|Social Media
मध्य प्रदेश

अधिकारियों ने डुबवाया जमाकर्ताओं का पैसा: घोटाले में 3 पर FIR दर्ज

भोपाल, मध्यप्रदेश : भोपाल कॉपरेटिव सेंट्रल बैंक घोटाले का मामला सामने आया है, जानकारी के अनुसार इस मामले में बैंक के 3 अधिकारियों को EOW ने गिरफ्तार किया।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

हाइलाइट्स :

  • भोपाल कोऑपरेटिव सेंट्रल बैंक घोटाले में EOW की कार्रवाई

  • बैंक के 3 अधिकारियों को EOW ने किया गिरफ्तार

  • सन 2018 में किया था कंपनी में निवेश

  • भोपाल को-ऑपरेटिव सेंट्रल बैंक को 111.27 करोड़ का नुकसान

  • सहकारिता समिति की शिकायत पर की EOW ने कार्रवाई

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश के भोपाल कॉपरेटिव सेंट्रल बैंक घोटाले का मामला सामने आया है, जानकारी के अनुसार इस मामले में तत्कालीन प्रबंधक संचालक रामशंकर विश्वकर्मा, शाखा प्रबंधक अनिल भार्गव और सुभाष शर्मा को किया गिरफ्तार किया है। अधिकारियों ने लालच में डुबाई दूसरों की जमा-पूंजी।

क्या है पूरा मामला

मिली जानकारी के अनुसार सन् 2018 में तत्कालीन प्रबंध संचालक रमाशंकर विश्वकर्मा ने आईएलएंडएफएस (IL&FS) कंपनी के द्वारा जारी किए गए कॉमर्शियल पेपर में बैंक के नियम विरूद्ध निवेश किया गया, जिसके चलते भोपाल को-ऑपरेटिव सेंट्रल बैंक को 111.27 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था। मुम्बई की कम्पनी IL&FS नाम की कंपनी में नियम विरुद्ध निवेश किया था।

जानकारी के अनुसार

यह घोटाला ज़्यादा ब्याज के लालच में किया गया, बैंक के अधिकारियों ने ज्यादा ब्याज के लालच में ऐसी कंपनी में जमाकर्ताओं का पैसा लगाया, जो बंद होने के कगार पर पहुंच गई हैं।

अनियमितता का मामला पहले से दर्ज था

इस घोटाले में कंपनी पर 99 हजार 534 करोड़ की अनियमितता का मामला पहले से दर्ज था। IL&FS कंपनी का मुख्यालय मुंबई में है और इनके संचालक मंडल के खिलाफ ईडी ने अपराध दर्ज किया है साथ ही संचालक मंडल के अधिकारियों को गिरफ्तार भी किया है।

बैंक के 3 अधिकारियों को EOW ने किया गिरफ्तार

बैंक घोटाले में EOW ने तत्कालीन प्रबंध संचालक रमाशंकर विश्वकर्मा, शाखा प्रबंधक अनिल भार्गव और सुभाष शर्मा को गिरफ्तार किया है। भोपाल में बैंक की 24 शाखाओं में किसानों और अन्य निगमों का पैसा जमा रहता है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co