Umaria : 22 दिन बाद भी विवेचना में पुलिस नहीं जोड़ पाई ठेकेदार का नाम
22 दिन बाद भी विवेचना में पुलिस नहीं जोड़ पाई ठेकेदार का नामराज एक्सप्रेस, संवाददाता

Umaria : 22 दिन बाद भी विवेचना में पुलिस नहीं जोड़ पाई ठेकेदार का नाम

उमरिया, मध्यप्रदेश : जागरूकजनों ने संभागायुक्त राजीव शर्मा सहित अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक से मांग की है कि उक्त मामले को संज्ञान में लेकर प्रशासनिक सहित पुलिस स्तर पर मामला दर्ज करवाया जाये।
Summary

हाल ही में जिले के लोकप्रिय कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव ने रविवार की सुबह सब्जी मंडी परिसर में दुकान में खुद ग्राहक बनकर दुकान पहुंच गए और 16 पाव देशी शराब जब्त करवाई और कार्यवाही की, लेकिन मानपुर थानान्तर्गत 02 नवम्बर की रात इंदवार रोड पनपथा बैरियर के आगे कथित चार लोगों को 20 पेटी अंग्रेजी शराब के साथ पकड़ा गया था, लेकिन आज तक पुलिस शराब ठेकेदार का नाम सामने लाने में हिचकिचा रही है।

उमरिया, मध्यप्रदेश। जिले के मानपुर थाना क्षेत्र में गुरुवाही हेलीपैड के पास पुलिस द्वारा 20 पेटी अवैध शराब एक सफेद कलर की बोलेरो वाहन में परिवहन करते पकड़ी थी, यह शराब मनीष सक्सेना ठेकेदार ताला की शराब दुकान से निकल कर ग्रामीण क्षेत्रो में चल रहे अवैध शराब के पैकारी के ठीहे तक पहुंचाने की खबर थी, वाहन क्रमांक- एमपी 17 सीबी 3842 में 2 नवम्बर की रात्रि लगभग 11 बजे इंदवार रोड पनपथा बेरियल के आगे बुलेरो वाहन में चार लोग सवार थे, जिन्हें गिरफ्तार भी किया गया, लेकिन पुलिस पहले आबकारी ठेकेदार का नाम आबकारी विभाग से न मिलने का बहाना बनाती रही और उसके बाद मामले को विवेचना में अटका कर ठेकेदार को खुली छूट दिये हुए हैं।

कोई वरिष्ठ...कार्यवाही में आ रहा आड़े :

सूत्र बताते हैं कि ताला दुकान में बड़े अधिकारी के भाई-भतीजे के पार्टनर होने के चक्कर में आज तक कार्यवाही अधर में लटकी हुई है और ठेकेदार भोपाल में मजे उड़ा रहा है। क्षेत्र में गांव-गांव होने वाली पैकारी में अधिकतर शराब की सप्लाई स्थानीय लायसेंसी ठेके से ही की जाती है, शराब ठेकेदार के कारिंदे गुपचुप तरीके से गांव-गांव शराब पहुंचाते है, इसके लिए बकायदा नेटवर्क तैयार किया हुआ है, चर्चा है कि स्थानीय पुलिस व आबकारी अधिकारी ताला दुकान पर कार्यवाही करने से बचते नजर आते हैं, पूरे क्षेत्र में चर्चा है कि अशोक, शुक्ला सहित दीपक की जोड़ी संभाग के बड़े अधिकारी के रिश्तेदार की दुकान बताकर पुलिस सहित आबकारी विभाग को भी धोखे में रखकर पैकारी करने में आज भी जुटे हैं।

गुर्गे सम्हाल रहे शराब दुकान :

16 दिन पहले शराब की खेप पकड़ने के बाद रवि जायसवाल, अशोक जायसवाल, सुमित जायसवाल, ललन सिंह के नाम पैकारी करने में सामने आये थे, जिसके बाद पुलिस ने फुर्ती दिखाते हुए पैकारों को तो पकड़ लिया, लेकिन ठेकेदार को संभवत: आज भी पूरे मामले से बाहर किये हुए हैं, मजे की बात तो यह है कि अब ताला शराब दुकान की जिम्मेदारी दीपक-शुक्ला की जोड़ी सम्हाल रही है।

कहीं मिलावटी शराब तो नहीं :

ताला दुकान के बाहर ठेकेदार ने पोस्टर लगाकर रखा है कि घर-घर पहुंचने वाली शराब जहरीली हो सकती है, लायसेंसी शराब दुकान से ही शराब की खरीदी करें, लेकिन 2 नवम्बर को जिस हिसाब से शराब की 20 पेटी पकड़ी गई और पुलिस द्वारा कुछ लोगों को इस मामले में आरोपी बनाया, चर्चा है कि ठेकेदार द्वारा जो पोस्टर लगाया गया है, उस हिसाब से शराब की जांच होनी चाहिए, कहीं कथित दुकान से बाहर लोगों को जहरीली शराब तो नहीं परोसी जा रही थी।

तो क्या पैकारी के दम पर चल रही दुकान :

ग्रामीण क्षेत्रों में किस कदर शराब की खपत हो रही होगी। आबकारी विभाग शराब विक्रय कराने में शराब ठेकेदार को साथ दे रही हैं, तभी तो अंग्रेजी शराब की 20 पेटी शराब पकड़ने के बाद, यह पता लगने के बाद किस दुकान की शराब थी, उस ठेकेदार के विरूद्ध मामला दर्ज नहीं कर पा रही है, ठेकेदार के कथित भरोसे मंद कारिंदे द्वारा स्पष्ट रूप से कहा जाता है कि बगैर पैकारी कोई शराब दुकान नहीं चल सकती, इससे स्पष्ट होता है कि बीते दिनों हुई कार्यवाही के बाद, आज भी पैकारी का खेल-खेला जा रहा है। जागरूकजनों ने संभागायुक्त राजीव शर्मा सहित अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक से मांग की है कि उक्त मामले को संज्ञान में लेकर प्रशासनिक सहित पुलिस स्तर पर मामला दर्ज करवाया जाये।

इनका कहना है :

जब इस मामले में मानपुर थाना प्रभारी वर्षा पटेल को फोन लगाया गया तो उन्होंने पूरा मामला सुनने के बाद फोन काट दिया।

जब इस संबंध में आबकारी अधिकारी श्रीमती रिनी गुप्ता से बात करने का प्रयास किया गया तो उन्होंने फोन नहीं उठाया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co