पूर्व मंत्री एवं सिलवानी से विधायक रामपाल सिंह
पूर्व मंत्री एवं सिलवानी से विधायक रामपाल सिंह|Social Media
मध्य प्रदेश

Exclusive : हमारी सरकार ने रोजगार के विकल्प तैयार करने के लगातार प्रयास किए

भोपाल, मध्य प्रदेश : पूर्व मंत्री रामपाल सिंह से खास बातचीत कहा उपचुनाव में सभी 27 सीटों पर प्रचंड बहुमत से जीत का परचम लहराएंगे।

राज एक्सप्रेस

राज एक्सप्रेस

भोपाल, मध्य प्रदेश। भाजपा के कद्दावर नेता, पूर्व मंत्री एवं सिलवानी से विधायक रामपाल सिंह का कहना है कि पार्टी सभी सीटों पर प्रचंड बहुमत के साथ उपचुनाव में विजय हासिल करेगी। उन्होंने यह दावा भी किया है कि जहां चुनाव होने जा रहे हैं वहां कार्यकर्ता पार्टी के प्रति निष्ठा के साथ कार्य में लग गए हैं। राज एक्सप्रेस से उन्होंने खास बातचीत में पार्टी की सभी रणनीतियों पर विस्तार के साथ अपनी राय रखी। प्रस्तुत हैं उनसे बातचीत के प्रमुख अंश...

Q

जिन क्षेत्रों में उपचुनाव होने जा रहे हैं वहां कार्यकर्ताओं में जबरदस्त नाराजगी है। कैसे सफलता पाएंगे?

A

हर कार्यकर्ता सम्मान चाहता है। पार्टी ने उनके सम्मान का पूरा ख्याल रखा है। उनके मन में जो सवाल थे उससे उन्हें संतुष्ट कर दिया गया है। 75 फीसदी कार्यकर्ताओं को संतुष्ट कर लिया गया है।

Q

उपचुनाव वाले क्षेत्रों में कद्दावर नेताओं की नाराजगी भी सामने आई है। इन्हें कैसे मनाएंगे?

A

इनकी शीर्ष नेतृत्व से निरंतर चर्चा हुई है। मुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष महोदय का इनसे सतत संपर्क है और विधिवत इनसे संवाद हो रहा है। जिन लोगों में नाराजगी के स्वर उभरे थे। अब वह भी पूरी तरह से संतुष्ट हो चुके हैं।

Q

उपचुनाव की बेला में प्रदेश के बेरोजगारों के रोजगार का मुद्दा एक चुनौती है। इस मुद्दे को कैसे सुलझाएंगे?

A

पिछली कांग्रेस सरकार ने बेरोजगारों के साथ बड़ा छल किया है। कांग्रेस ने प्रदेश के बेरोजगारों को नौकरी दिलाने के लिए लुभावने वादे किए। लेकिन इस गंभीर मुद्दे पर पिछली कांग्रेस सरकार खरी नहीं उतरी है। हमारी सरकार ने प्रदेश में रोजगार के विकल्प तैयार करने के लिए लगातार प्रयास किए हैं।

Q

प्रदेश में कर्मचारी भी नाराज हैं। इनकी चेतावनी है कि हम अपनी सुविधाओं के मुद्दे उपचुनाव वाले क्षेत्रों में उठाएंगे?

A

प्रदेश में जो नाराजगी है। वह पिछली कमलनाथ सरकार की देन है। पिछली सरकार ने अपने वचन पत्र में कर्मचारियों की जो मांगें शामिल की थी। उनमें से एक भी मांग का समाधान नहीं किया गया है। कमलनाथ सरकार ने कर्मचारियों की मांगे पूरी करने की जगह उनका अपमान किया है।

Q

सत्ता परिवर्तन के बाद माना जा रहा था कि रामपाल सिंह को मंत्री पद से नवाजा जाएगा। लेकिन मंत्रिमंडल में जगह ना मिलने से कहीं ना कहीं तो मलाल होगा?

A

मंत्री ना बनने का कोई मलाल उनके अंदर नहीं है। हम पार्टी के कार्यकर्ता हैं। कहां हमारा उपयोग होना है। यह पार्टी पर निर्भर है। पार्टी अपनी जरूरत के हिसाब से हमें जो जवाबदारी देगी उसका पूरी तरह से हम निर्वहन करेंगे। पार्टी के आदेशों का पालन करना हमारा मुख्य कर्तव्य है।

Q

जिन विधानसभा क्षेत्रों में विधायकों का निधन हुआ। वहां भी उपचुनाव होना हैए लेकिन अभी तक वहां प्रत्याशी की घोषणा क्यों नहीं?

A

दिवंगत विधायकों के क्षेत्रों में उम्मीदवारों की घोषणा की तैयारी चल रही है। इसके लिए अंदर ही अंदर सर्वे का कार्य चल रहा है। शीघ्र ही संगठन द्वारा यहां भी उम्मीदवार घोषित किए जाएंगे।

Q

उपचुनाव में पार्टी बहुमत जुटाने के लिए कितनी सीटें जीतने का लक्ष्य लेकर चल रही है?

A

हम सभी 27 सीटों पर प्रचंड बहुमत से जीतेंगे। यही पार्टी का लक्ष्य है। पार्टी का हर कार्यकर्ता पूरे उत्साह के साथ अपने काम में जुट गया है। हमें उम्मीद ही नहीं पूरा भरोसा है कि सभी सीटों पर जनता का आशीर्वाद मिलेगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co