मशहूर इतिहासकार बाबासाहेब पुरंदरे का हुआ निधन, सीएम शिवराज ने ट्वीट कर जताया शोक
मशहूर इतिहासकार बाबासाहेब पुरंदरे का हुआ निधनSocial Media

मशहूर इतिहासकार बाबासाहेब पुरंदरे का हुआ निधन, सीएम शिवराज ने ट्वीट कर जताया शोक

भोपाल, मध्य प्रदेश। आज जाने माने इतिहासकार और पद्म विभूषण पुरस्कार से सम्मानित बलवंत मोरेश्वर पुरंदरे का निधन हो गया है, बाबासाहेब पुरंदरे के निधन पर मध्यप्रदेश के CM ने ट्वीट कर शोक जताया है।

भोपाल, मध्य प्रदेश। आज जाने माने इतिहासकार और पद्म विभूषण पुरस्कार से सम्मानित बलवंत मोरेश्वर पुरंदरे (Balwant Moreshwar Purandare) का निधन हो गया है, वह 99 वर्ष के थे। बाबासाहेब पुरंदरे के निधन पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने ट्वीट कर शोक जताया है।

सोमवार सुबह पुणे में बाबासाहेब पुरंदरे का हुआ निधन :

मिली जानकारी के मुताबिक सोमवार सुबह पुणे के दीनानाथ मंगेशकर मेमोरियल अस्पताल में बाबासाहेब पुरंदरे का निधन हुआ है। अस्पताल प्रशासन के मुताबिक, पुरंदरे को शनिवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां बाद में हालात गंभीर होने के बाद उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया। इसके बाद से ही उनकी स्थिति में सुधार नहीं हो सका और आज सुबह उन्होंने अंतिम सांस ली है।

बताते चलें कि, बाबासाहेब पुरंदरे देश के लोकप्रिय इतिहासकार-लेखक रहने के साथ थिएटर कलाकार भी रह चुके थे। उन्हें छत्रपति शिवाजी महाराज पर अपने विशेषज्ञता के लिए जाना जाता है। बाबा पुरंदरे ने शिवाजी के जीवन से लेकर उनके प्रशासन और उनके काल के किलों पर भी कई किताबें लिखीं। इसके अलावा उन्होंने छत्रपति के जीवन और नेतृत्व शैली पर एक लोकप्रिय नाटक- जानता राजा का भी निर्देशन किया था।

सीएम शिवराज ने ट्वीट कर जताया शोक

एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर कहा- पद्म विभूषण बाबासाहेब पुरंदरे जी के रूप में भारत ने अपने एक अनमोल रत्न को खो दिया। परमपिता परमात्मा से दिवंगत आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान और परिजनों को यह गहन दु:ख सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं।

नरोत्तम मिश्रा ने भी किया ट्वीट

एमपी के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) ने ट्वीट कर कहा- "भारत के जाने-माने इतिहासकार और लेखक पद्म विभूषण बाबासाहेब पुरंदरे जी के निधन का दुखद समाचार मिला है। छत्रपति शिवाजी महाराज के इतिहास को घर-घर तक पहुंचाने में बाबासाहेब के नाटक "जाणता राजा' का बड़ा योगदान रहा। ईश्वर दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करें।"

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co