भाजपा सरकार में किसान पूरी तरह बर्बाद हो गए : जीतू पटवारी
भाजपा सरकार में किसान पूरी तरह बर्बाद हो गए : जीतू पटवारीRaj Express

भाजपा सरकार में किसान पूरी तरह बर्बाद हो गए : जीतू पटवारी

प्रदेश कार्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान पटवारी ने कहा कि शिवराज सरकार मध्यप्रदेश की अब तक की सबसे ज्यादा किसान विरोधी सरकार है। मुख्यमंत्री आज किसानों को बीज बांटने का नाटक कर रहे हैं।

भोपाल, मध्यप्रदेश। प्रदेश में कृषि से जुड़े कार्यों में प्रदेश सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों को लेकर प्रदेश कांग्रेस मीडिया विभाग के अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने शिवराज सरकार पर जमकर हमला बोला है।

गुरुवार को प्रदेश कार्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान पटवारी ने कहा कि शिवराज सरकार मध्यप्रदेश की अब तक की सबसे ज्यादा किसान विरोधी सरकार है। मुख्यमंत्री आज किसानों को बीज बांटने का नाटक कर रहे हैं। जबकि किसानों को जब बीज की सबसे ज्यादा जरूरत थी तब सोयाबीन का बीज बाजार से गायब था। निमाड़ के इलाके में सूखा पड़ा हुआ है और शिवराज सरकार ने आज तक वहां के किसानों की सुध नहीं ली। इंदौर और आसपास के इलाके में आलू का किसान बुरी तरह परेशान है। मूंग के किसान की दुर्दशा सब को पहले से ही पता है।

शिवराज सरकार द्वारा ग्राम बीज बनाने के दावे को हास्यास्पद बताते हुए पटवारी ने कहा कि पहले बीज उत्पादक सहकारी समितियों के घोटाले का हिसाब दें जिन्होंने सरकारी अनुदान से बीज बनाकर निजी कंपनियों को बेच दिए। सरकार यह बात स्पष्ट करें कि बीज विकास निगम किसानों को बीज उपलब्ध कराने में सक्षम है या नहीं। अगर सक्षम है तो किसानों को सोयाबीन का बीज क्यों नहीं मिल सका। उन्होंने मूंग की फसल की खरीद अभी तक नहीं होने, किसानों का कर्ज माफ न होने, न्यूनतम समर्थन मूल्य में 2 से 3 फीसदी की वृद्धि होने को नाकाफी बताया। श्री पटवारी ने कहा कि प्रदेश का हाल यह है कि शिवराज मस्त और किसान पस्त।

पटवारी ने केंद्र सरकार पर हमला करते हुए कहा कि मोदी सरकार ने 2022 तक किसानों की आमदनी दोगुनी करने का वादा किया था। लेकिन किसानों की आमदनी तो दोगुनी नहीं हुई, लागत जरूर दोगुनी हो गई है। प्रदेश बिजली के दामों में बढ़ोत्तरी को लेकर उन्होंने कहा कि बिजली के दाम डेढ़ गुना हो गए हैं, जबकि कमलनाथ सरकार में बिजली के बिल आधे हो गए थे। प्रदेश में डीजल के दाम भी दुगने स्तर पर पहुंच गए हैं। खाद और बीज की कीमत भी दुगनी हो गई हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.