भोपाल : कृषि कानूनों के विरोध में मध्यप्रदेश में भी किसानों का चक्काजाम
कृषि कानूनों के विरोध में मध्यप्रदेश में भी किसानों का चक्काजामSocial Media

भोपाल : कृषि कानूनों के विरोध में मध्यप्रदेश में भी किसानों का चक्काजाम

कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलनरत किसानों के समर्थन में भोपाल सहित प्रदेश के अन्य स्थानों पर आज दोपहर 12 बजे से 3 बजे के बीच किसानों के साथ कांग्रेस नेताओं ने चक्काजाम कर विरोध प्रदर्शन किया।

भोपाल, मध्य प्रदेश। कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलनरत किसानों के समर्थन में मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल सहित प्रदेश के अन्य स्थानों पर आज दोपहर 12 बजे से 3 बजे के बीच किसानों के साथ कांग्रेस नेताओं ने चक्काजाम कर विरोध प्रदर्शन किया।

भोपाल में कांग्रेस नेताओं ने किया किसानों का समर्थन :

राजधानी भोपाल के परवलिया स्थित राष्ट्रीय राजमार्ग पर कांग्रेस नेताओं ने किसानों के समर्थन में चक्काजाम किया। इसके अलावा बैरसिया और नजीराबाद में भी प्रदर्शन कर चक्काजाम किया गया और केन्द्र सरकार से कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग की गयी। इस दौरान राष्ट्रीय राजमार्ग पर कुछ देर के लिए यातायात प्रभावित हुआ, हालांकि बाद में पुलिस की समझाइश के बाद चक्काजाम समाप्त कर दिया गया।

कांग्रेस नेता पी. सी. शर्मा को हटाते पुलिसकर्मी
कांग्रेस नेता पी. सी. शर्मा को हटाते पुलिसकर्मीSocial Media

राजधानी भोपाल के अलावा जबलपुर में भी किसानों के समर्थन में चकाजाम किया गया। वहां कृषि कानूनों के विरोध में खजरी-खिरिया चौक पर चक्काजाम किया गया। दो घंटे चले चक्काजाम के कारण वायपास पर यातायात पूरी तहर से ठप रहा। इस दौरान किसानों ने अपनी मांग के संबंध में ज्ञापन भी सौंपा। चक्काजाम संयुक्त किसान मोर्चा के तत्वाधान में किया गया, जिसमें विभिन्न किसान संगठनों के लोग भी शामिल हुए।

उधर, सतना में किसानो के चक्काजाम का आंशिक असर दिखा। जिले के अमरपाटन, रामनगर, उचेहरा, मैहर और सतना शहर के कुछ मार्गो पर किसान और कांग्रेस नेताओं ने धरना देकर थोड़े समय के लिये आवागमन को रोक दिया। वहां किसानो का चक्काजाम शांतिपूर्ण रहा और कहीं भी किसी तरह की अप्रिय स्थिति का सामना नही करना पड़ा।

इसके अलावा शिवपुरी के निकट ग्राम परोड़ा के पास दोपहर ग्वालियर देवास फोरलेन राष्ट्रीय राजमार्ग पर कृषि कानून के विरोध में जाम लगाया गया। हालांकि किसानों की संख्या कम थी, लेकिन फिर भी कुछ देर के लिए वाहन दोनों तरफ रुके रहे। पुलिस द्वारा मौके पर जाकर किसानों को समझाया, जिसके बाद उनके द्वारा जाम खोल दिया गया। वहीं, ग्वालियर, सागर, रीवा, उज्जैन सहित अन्य स्थानों पर भी किसानों के समर्थन में चक्काजाम किया गया।

डिस्क्लेमर : यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। इसमें राज एक्सप्रेस द्वारा कोई संशोधन नहीं किया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co