कर्ज माफी की आस लगाए बैठे किसानों को बैंक थमाने लगे नोटिस
कर्ज माफी की आस लगाए बैठे किसानों को बैंक थमाने लगे नोटिस|Pankaj Yadav
मध्य प्रदेश

छतरपुर: कर्ज माफी की आस लगाए बैठे किसानों को बैंक थमाने लगे नोटिस

छतरपुर, मध्यप्रदेश: सरकार का कहाँ गया वादा? किसानों के खातों में नहीं पहुंची कांग्रेस ने किसानों को ‘कर्ज माफी’ का सपना दिखाया और सरकार बनते ही 10 दिनों में कर्ज माफ करने की घोषणा की थी।

Pankaj Yadav

राज एक्सप्रेस। सत्ता में आने के लिए छटपटा रही कांग्रेस ने किसानों को 'कर्ज माफी' का सपना दिखाया और कांग्रेस के तत्कालीन राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने सरकार बनते ही 10 दिनों में कर्ज माफ करने की घोषणा की। यदि कर्ज माफ न हुआ तो मुख्यमंत्री को बदलने की भी घोषणा की थी। आज भी किसान कर्ज माफी का इंतजार कर रहे हैं। यह बात अलग है कि मुख्यमंत्री को बदलने की बात कहने वाले राष्ट्रीय अध्यक्ष ही बदल गए। कर्जदार किसानों को बैंकों के नोटिस आ रहे हैं।

सरकार का कहाँ गया वादा? किसानों के खातों में नहीं पहुंची राशि :

प्रदेश में कमलनाथ की सरकार बनने पर किसानों की कर्ज माफी की घोषणा हो गई थी और फरवरी से किसानों के खातों में राशि भेजे जाने के लिए सरकार ने जगह-जगह दीवार लेखन कराया था लेकिन शायद ही 20 से 25 फीसदी किसानों को कर्जमाफी का लाभ मिल सका हो। हजारों ऐसे किसान हैं जो कर्ज माफी का इंतजार कर रहे हैं। पैसे की तंगी से जूझ रहे किसान खातों में राशि जमा नहीं करा सके। परिणामस्वरूप बैंकों द्वारा किसानों को ऋण चुकाने के लिए नोटिस दिए जा रहे हैं।

Raj Express
www.rajexpress.co