Raj Express
www.rajexpress.co
तहसील कार्यालय की मीटिंग
तहसील कार्यालय की मीटिंग|Manoj Gupta
मध्य प्रदेश

कटनी: किसानों को अब नहीं काटने पडे़ंगें राजस्व विभाग के चक्कर

कटनी, बहोरीबन्द: अब किसानों को नक्शे की नकल के लिए राजस्व विभाग के चक्कर नहीं काटना पडे़ंगें, क्योंकि अब खसरा नक्शा की नकल, एम पी ऑनलाइन या लोक सेवा केन्द्र से बहुत आसानी से उपलब्ध हो सकेगी।

Kavita Singh Rathore

Manoj Gupta

Kavita Singh Rathore

हाइलाइट्स :

  • किसानों को खसरा नक्शे की नकल के लिए नहीं जाना पड़ेगा राजस्व विभाग

  • एम पी ऑनलाइन सेन्टर से निकल सकेंगे नक्शे की नकल

  • पत्रकार एवं एम पी ऑनलाइन सेन्टर संचालकों की मीटिंग हुई

  • ऑनलइन नक्शे की नकल पूरी तरह मान्य

राज एक्सप्रेस। बहोरीबन्द प्रदेश सरकार अब अधिकारियों की सुविधा और लोगों की परेशानियों को मद्देनजर रखते हुये, धीरे-धीरे किसानों के लिए सुविधा मुहैया कराने के मूंड़ में नजर आ रही है क्योंकि, जब राजस्व विभाग के द्वारा किसानों को नकल निकलवाने जाना पड़ता था तो, पटवारियों के हफ्ते-हफ्ते तक चक्कर काटना पड़ता था और किसानों का हजारों रूपये आने जाने में खर्च हो जाता था और तो और पटवारियों को भी जब तक रिश्वत नही मिलती थी, जब तक किसानों को नकल तक प्राप्त नही होती थी।

किसानों का कहना :

किसानों का कहना है कि, सरकार द्वारा जो यह निर्णय लिया गया है, यह बहुत ही अच्छा है। सरकार के इस फैसले से धीरे-धीरे भ्रष्टाचार खत्म होता चला जायेगा और लोगों को हो रही परेशानियों से झुटकारा भी मिल जाएगा।

तहसील कार्यालय में ली मीटिंग :

इसी बिन्दु को लेकर तहसील कार्यालय बहोरीबन्द में 11 सितम्बर को पत्रकार एवं एम पी ऑनलाइन सेन्टर संचालकों को बुला कर बहोरीबन्द तहसीलदार राजेश पान्डेय द्वारा मीटिंग ली गयी। इस मीटिंग में यह बताया गया कि, किसानों को जमीनों का खसरा नक्शे की नकल (land Map Copy), जो राजस्व विभाग के पटवारियों द्वारा दी जाती थी, जिसके लिए उन्हें कई चक्कर काटने पड़ते थे, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। किसानों की सुविधा के लिए सरकार ने अब यह फैसला लिया हैं कि, कोई भी किसान अब अपने नजदीकी एम पी ऑनलाइन सेन्टर एवं लोक सेवा केन्द्रों के माध्यम से शासन द्वारा निर्धारित शुल्क देकर किसान अपनी-अपनी जमीनों के खसरा नक्शे की नकल निकलवा सकेगा।

सभी जगह रहेगी मान्य :

ऑनलाइन निकाली गई इस नक्शे की नकल पूरी तरह मान्य रहेगी, यदि किसी भी स्थान पर नक्शे की नकल दिखाने की जरूरत पड़ती है तो, किसान वही नकल सभी जगह दिखा सकता है। इस मीटिंग में अनिता सुनील रत्नम जनपद अध्यक्ष सहित कई अन्य लोग भी उपस्थित रहे।