Raj Express
www.rajexpress.co
 तेन्दुए शावक की मौत
तेन्दुए शावक की मौत|Kamlesh Yadav
मध्य प्रदेश

उमरिया: संदिग्ध परिस्थितियों में मादा तेंदुए शावक की मौत

उमरिया, मध्यप्रदेश : बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के पनपथा बफर के खुसरिया बीट में मिला तेंदुए का शव, चेहरे पर मिले चोट के निशान।

Kamlesh Yadav

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश के उमरिया में मुख्य वन संरक्षक एवं क्षेत्र संचालक बांधवगढ़ टाइगर रिज़र्व ने बताया कि बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व अंतर्गत पनपथा (बफर) परिक्षेत्र के बीट खुसरिया के कक्ष क्रमांक आर.एफ.-192 में गश्ती के दौरान वनरक्षक एवं पेट्रोलिंग दल के सदस्यों ने एक मादा तेन्दुआ शावक जिसकी अनुमानित उम्र एक वर्ष से कम थी को मृत अवस्था में देखा।

वनरक्षक द्वारा अपने उच्च अधिकारियों को इसकी सूचना तत्काल दी, जिसके बाद क्षेत्र संचालक बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व विन्सेन्ट रहीम, प्रभारी उप संचालक अंकित पाण्डेय, उप वनमण्डलाधिकारी ताला ए.के. शुक्ला, वन परिक्षेत्र अधिकारी पनपथा बफर व्ही.के. ज्योतिषि मौके पर पहुंचे।

मौत पर संशय

झुलना नाला के समीप पहाड़ी पर घटना स्थल पर पहुंचे एवं निरीक्षण के दौरान शव के आसपास कोई ऐसे प्रमाण नहीं देखे गए, जिससे तेंदुआ शावक की अप्राकृतिक मृत्यु होना प्रमाणित होता हो। तेंदुआ शावक के पैर के पंजे, पूंछ, मूंछ के बाल आदि सही सलामत पाए गए हैं। शावक के शरीर में कहीं भी चोंट के निशान नहीं पाए गए।

शावक के चेहरे में थी चोट

केवल शावक का आंख, मुंह, नाक क्षतिग्रस्त पाए गए जो किसी अन्य वन्यजीव द्वारा काटने या खाने के फलस्वरूप थे। मौके पर वन्यजीव सहायक शल्यज्ञ एवं अन्य वन्यजीव चिकित्सक को बुलाकर शव विच्छेदन क्षेत्र संचालक की उपस्थिति में कराया गया एवं मृत्यु के कारण के संबंध में विश्लेषण हेतु सेम्पल लिए गए। तदुपरांत क्षेत्र संचालक एवं अन्य अधिकारियों के समक्ष मादा तेन्दुए का शव जलाकर समस्त अवयवों सहित पूर्णत: नष्ट किया गया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।