शुरू पहली गौ कैबिनेट बैठक, CM ने कहा- बड़ी संख्या में बनाई जाएंगी गौशालाएं

भोपाल, मध्यप्रदेश : गोपाष्टमी के अवसर पर प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मध्यप्रदेश की प्रथम गौ कैबिनेट की बैठक में भाग ले रहे हैं।
शुरू पहली गौ कैबिनेट बैठक, CM ने कहा- बड़ी संख्या में बनाई जाएंगी गौशालाएं
शुरू पहली गौ कैबिनेट बैठकSocial Media

भोपाल, मध्यप्रदेश। प्रदेश के भोपाल में रविवार सुबह 11:30 बजे मध्यप्रदेश की पहली गौ कैबिनेट की बैठक शुरू हो गई है, मध्य प्रदेश की पहली गौ कैबिनेट की बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए गोधन का उपयोग किया जाएगा, क्योंकि स्वाबलंबन के लिए गोमाता की अवधारणा को लागू करेंगे।

आत्मनिर्भर मप्र बनाने के लिए गोधन का उपयोग करेंगे : सीएम

मध्य प्रदेश की पहली गो-कैबिनेट की बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा कि गौशालाओं को स्वाबलंबी बनाया जाएगा, वही गायों के गोबर और गोमूत्र का कैसे बेहतर उपयोग करें, अधिकारी इस पर सुझाव लें और काम शुरू करें। आगे शिवराज ने कहा कि बड़ी संख्या में गौशालाएं बनाई जाएंगी और इसमें समाज का सहयोग लिया जाएगा। सिर्फ पशुपालन विभाग नहीं, बल्कि अन्य विभाग भी इस भूमिका को निभाएं। प्रदेश में करीब 1500 गौशालाएं हैं, जिनमें 1.80 लाख गायों को रखा गया है।

बताते चलें कि पहले गौ-कैबिनेट की बैठक गो-अभयारण्य में ही होना थी, लेकिन इसका स्थान परिवर्तन हो गया है। वहीं इससे पहले मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने तिरुपति से ट्वीट कर कहा था कि कैबिनेट की पहली बैठक गौ-अभयारण्य में होगी। लेकिन अब मध्यप्रदेश में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार ने गौ कैबिनेट का प्रस्तावित बैठक कार्यक्रम बदल दिया था, बैठक के बाद मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आगर जाएंगे, जहां वे सालरिया स्थित गौ-अभ्यारण में सभा को संबोधित करेंगे।

आपको बताते चलें कि इस बैठक से पहले प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज ने निवास में वरिष्ठ अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोना की स्थिति को लेकर समीक्षा बैठक की। शिवराज सिंह चौहान वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मध्यप्रदेश में कोरोना की मौजूदा स्थिति और रोकथाम को लेकर मध्यप्रदेश के 5 जिलों की रिपोर्ट पर चर्चा की।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co