MP के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने पीसीसी में मीडिया से की चर्चा
MP के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने पीसीसी में मीडिया से की चर्चाSocial Media

MP के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने पीसीसी में मीडिया से की चर्चा, शिवराज सरकार पर लगाए ये आरोप

भोपाल, मध्यप्रदेश। कांग्रेस नेता कमलनाथ ने मीडिया से चर्चा की है। कमलनाथ ने बातचीत के दौरान शिवराज सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कही ये बात...

भोपाल, मध्यप्रदेश। पीसीसी में एमपी के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता कमलनाथ ने मीडिया से चर्चा की है। कांग्रेस नेता कमलनाथ (Kamal Nath) ने बातचीत के दौरान शिवराज सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि, शिवराज सरकार में आज भ्रष्टाचार की बात करें, कुपोषण की बात करें, कार्यवाही की बात करें, हर बात में इनकी सच्चाई सामने आ रही है और शिवराज सरकार में आज अत्याचार पर छूट है, भ्रष्टाचार पर छूट है।वो जान चुके हैं कि इनके आखरी 12-13 माह बचे हैं ,जितना लूट सके लूट लो।

कमलनाथ के प्रदेश सरकार पर लगाया आरोप-

कमलनाथ ने कहा, आज सरकार का फोकस आदिवासी समाज को बांटने का है जो आदिवासी समाज हमेशा से ही एक रहा है, वह एक नहीं रहे, यह आज भाजपा का लक्ष्य है। वह एक तरफ इवेंट करती है और दूसरी तरफ आदिवासी समाज को बांटने का काम भी कर रही है। आदिवासी समाज की जो उपजातियां हैं, उनके कई संगठन है, उनको यह पैसा, प्रलोभन देकर समाज को बांटने का प्रयास कर रहे हैं। भाजपा का शुरू से प्रयास लोगों को बांटने का रहता है, कभी धर्म के नाम पर, कभी जाति के नाम पर। आज यह चीता छोड़ रहे हैं लेकिन कुपोषण पर बात नहीं कर रहे हैं ,बेरोजगारी पर बात नहीं कर रहे हैं , यह आज प्रदेश के हालत है और यह जनता को गुमराह करने का काम कर रहे हैं।जो वास्तविक मुद्दे हैं ,जो आज प्रदेश और हर व्यक्ति के भविष्य से जुड़े हुए मुद्दे हैं, उससे आज ध्यान बांटने का काम हो रहा है।

आगे कमलनाथ ने कहा है कि, हमारा श्योपुर जिला देश का सबसे ज्यादा कुपोषित जिला है ,इसके गवाह तो खुद सरकारी आंकड़े हैं। चीता तो यह एक माह बाद भी छोड़ सकते थे ,पहले यह कुपोषण दूर करने के लिए कैंप लगाते , कुपोषण दूर करने के उपाय करते, लेकिन इन्हें तो चीता इवेंट करना था। आज श्योपुर जिला कुपोषित के साथ-साथ सबसे गरीब जिला भी है और वहां के रहवासियो के भविष्य की इनको कोई चिंता नहीं और वहां जाकर यह लेक्चर दिया जा रहा है कि पर्यावरण के लिए यह सही है,यह सब नाटक आज चल रहा है।सरकार को कुपोषण को दूर करने को लेकर कार्य योजना बनानी चाहिये। कायदे से तो वहां गिर के शेर आने चाहिये थे।जब मेरी सरकार थी ,जब मैं मुख्यमंत्री था, तब मैंने इसको लेकर खूब प्रयास किए।मैंने इसको लेकर सरकार से बात भी की थी कि यहां पूरी तैयारी है ,आप गिर के शेर भेज दीजिए, लेकिन उन्होंने शेर भेजने से मना कर दिया। अब शेर तो भेजे नहीं गुजरात से, अफ्रीका से चीता ले आये ध्यान बांटने के लिये।

हम जनहित के मुद्दों पर लगातार आवाज उठा रहे हैं, आज की जनता समझदार हैं ,इनकी सच्चाई को देख रही है, मध्यप्रदेश में मासूम बच्चियो से दुष्कर्म की लगातार घटनाएं घट रही है।आज अपराधियों के हौसले बुलंद है क्योंकि उन्हें पता है कि प्रदेश में कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज नहीं है। विधायक पांचीलाल मीणा के साथ हुए दुर्व्यवहार के सवाल पर कहा कि- आज पूरे प्रदेश का आदिवासी वर्ग अपने विधायक के साथ हुए दुर्व्यवहार के मामले को खुली आंख से देख रहा है कि किस प्रकार उनके साथ अशोभनीय घटना हुई। कमलनाथ बोले- भाजपा सिर्फ आदिवासियों के नाम पर इवेंट करती है ,सम्मेलन करती हैं,अधिकारियों को टारगेट देकर भीड़ बुलाई जाती है।

प्रदेश कांग्रेस प्रभारी जेपी अग्रवाल द्वारा कही गई बात के सवाल पर कहा कि - जब वे प्रदेश में प्रभारी बनने के बाद पहली बार आए तो मैंने ही उनसे आग्रह किया था कि उनको जिलों के दौरे करना चाहिए। उनका कहने का आशय कार्यकर्ताओं में उत्साह भरना है, मिशन 2023 की तैयारी करना है जो कार्यकर्ता घर बैठे हैं, उनको बाहर निकालना है। उन्होने कहा कि, हम आज जो भी निर्णय ले रहे हैं, वह कांग्रेस के हित में ले रहे है। कांग्रेस नेता अरुणोदय चौबे को दबाने के प्रयास कई महीने से चल रहे थे ,लगातार उनके बयान भी सामने आ रहे थे। इनके ऊपर किस प्रकार के प्रकरण लाद दिए गए थे। कांग्रेस में आज जो भी हैं वह अपनी निष्ठा से हैं ,बगैर किसी दबाव के हैं। आज हमारे लोगों पर झूठे केस लगाए जा रहे हैं ,दबाव प्रभाव की राजनीति की जा रही है, दबाव- प्रभाव से आप किसी का भी दिल, दिमाग़ और आत्मा नहीं ख़रीद सकते है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co