भोपाल : आज से 45 वर्ष से ऊपर के सभी लोग लगवा सकेंगे कोरोना का टीका
आज से 45 वर्ष से ऊपर के सभी लोग लगवा सकेंगे कोरोना का टीकासांकेतिक चित्र

भोपाल : आज से 45 वर्ष से ऊपर के सभी लोग लगवा सकेंगे कोरोना का टीका

45 साल से अधिक उम्र का कोई भी व्यक्ति अपने शहर के किसी भी केंद्र में टीका लगवा सकेगा। कोविन 2 पोर्टल में पहले से पंजीयन कराये या बिना पंजीयन कराए भी सीधे टीकाकरण केंद्र पर भी पहुंच सकते हैं।

भोपाल, मध्यप्रदेश। कोरोना से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंसिंग मास्क और हाथों को बार-बार साफ करना ही उपाय है जांच और उपचार की व्यवस्थाओं के साथ ही कोविड-19 के गंभीर खतरों से आमजन को बचाने के लिए सरकार द्वारा टीकाकरण भी ध्यान केंद्रित किया जा रहा है मध्य प्रदेश में 1 अप्रैल से 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों को टीके लगाए जाएंगे ।इसके लिए व्यापक स्तर पर तैयारियां की गई। राजधानी भोपाल में 177 जबकि प्रदेश में 7000 केंद्रों पर लोगों को टीके लगाए जाएंगे। प्रदेश में सप्ताह में 4 दिन लोगों का टीकाकरण किया जा रहा है प्रदेश में अभी तक 3216000 से अधिक लोगों को टीका लगाया जा चुका है जबकि राजधानी में 2 .12 लाख लोगों को वैक्सीनेट किया गया है राज्य टीकाकरण अधिकारी डॉ संतोष शुक्ला के मुताबिक 1 अप्रैल से 45 से अधिक आयु के सभी लोगों को टीकाकरण किया जाने की व्यापक स्तर पर जाम किए गए हैं जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ कमलेश अहिरवार के मुताबिक भोपाल जिले में बुधवार को 170 से अधिक केंद्रों पर टीकाकरण किया गया, राजधानी सहित प्रदेश भर के विभिन्न अस्पतालों और स्वास्थ्य केंद्रों पर बड़ी संख्या में लोग टीका लगवाने के लिए पहुंचे राजधानी के जेपी अस्पताल हमीदिया अस्पताल सहित अन्य केंद्रों पर बुजुर्गों की खासी कतार देखी गई।

प्रदेश के 7 हजार केंद्रों पर लगेगा कोरोना टीका :

‌मध्य प्रदेश में एक अप्रैल से 45 साल के ऊपर के सभी लोगों को कोरोना का टीका लगाया जाएगा। इसके लिए प्रदेश में करीब 7 हजार टीकाकरण केंद्र बनाए जाएंगे। राज्य टीकाकरण अधिकारी डॉ. संतोष शुक्ला ने बताया कि कोई भी व्यक्ति अपने शहर के किसी भी केंद्र में टीका लगवा सकेगा। भारत सरकार ने साफ कहा है कि मतदान केंद्र की तर्ज पर हितग्राहियों के क्षेत्र नहीं बांटे जाएं। जिसको जिस केंद्र पर सुविधाजनक लगे, वह वहां पर टीका लगवा सकता है। उन्होंने बताया कि टीकाकरण का समय पहले की तरह ही सुबह 9 से शाम 5 बजे तक रहेगा। हालांकि जिन केंद्रों में लोग 5 बजे के बाद भी मौजूद रहेंगे, उन्हें टीका लगाया जाएगा। बता दें कि अभी तक भारत सरकार के निर्देशों के अनुसार 45 साल से 60 साल तक के सिर्फ उन्हीं लोगों को टीका लगाया जा रहा, जो 19 तरह की चिन्हित बीमारियों में से एक या एक से अधिक से पीड़ित हैं। अब कोई बीमारी नहीं होने पर भी 45 साल से ऊपर के लोगों को टीका लगाया जाएगा। इसके लिए सभी जिलों को टीकाकरण का लक्ष्य दिया गया है। प्रदेश में 4 लाख लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य है। इसमें पहला और दूसरा डोज लगाने वाले सभी तरह के हितग्राही शामिल है। पहले तैयारी थी कि मतदान केंद्र की तर्ज पर टीकाकरण के लिए उस केंद्र के आसपास के लोगों को ही टीका लगाया जाएगा, लेकिन इससे कुछ केंद्रों में ज्यादा भीड़ हो सकती थी, लिहाजा क्षेत्र का बंधन नहीं रहेगा।

डॉक्टर संतोष शुक्ला ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को टीकाकरण के लिए परेशान नहीं होना पड़े, इसलिए सभी उप-स्वास्थ्य केंद्रों में टीकाकरण की सुविधा बनाई गई है। अभी करीब 6000 केंद्रों पर टीका लगाया जा रहा है। एक अप्रैल से केंद्रों की संख्या बढ़ाकर करीब 7000 करने की तैयारी है। उन्होंने बताया कि टीका लगवाने के लिए कोविन 2 पोर्टल में पहले से पंजीयन भी करा सकते हैं और बिना पंजीयन कराए सीधे टीकाकरण केंद्र पर भी पहुंच सकते हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co