आज से ग्रेसिम उद्योग में श्रमिक 8 घंटे ही करेंगे काम
आज से ग्रेसिम उद्योग में श्रमिक 8 घंटे ही करेंगे काम |Kratik Sahu-RE
मध्य प्रदेश

आज से ग्रेसिम उद्योग में श्रमिक 8 घंटे ही करेंगे काम

ठेका श्रमिकों को बोनस व वेतन, 9 करोड़ 78 लाख का वितरण कर दिया। अभी 850 श्रमिक काम कर रहे हैं।

Gopal Mavar

Gopal Mavar

राजएक्सप्रेस। ग्रेसिम उद्योग में गुरूवार से तीन शिफ्ट प्रारंभ हो जाएगी। श्रमिकों को अब 8 घंटे ही काम करना पड़ेगा। अभी 850 श्रमिक काम कर रहे हैं। ऐसा होने के बाद सिर्फ 25 श्रमिक ही बढ़ेंगे। शासन से प्रोडेक्शन बढ़ाने के आदेश मिलने के बाद आवश्यकता अनुसार श्रमिकों को काम पर बुलाया जाएगा। उद्योग ने ठेका श्रमिकों को बोनस व वेतन लगभग 9 करोड़ 78 लाख का वितरण कर दिया गया है। कुछ श्रमिकों का मामला अटका हुआ है उसका भी जल्द निराकरण होने की संभावना नेताओं के हस्तक्षेप के बाद बन रही है।

कोरोना महामारी के चलते लॉकडाऊन लगातार चौथी बार बढ़ा दिया है। रेड जोन में होने के कारण शहर में कोई भी रियायत नहीं दी गई। शहर के बंद पड़े उद्योगों को शर्तो व निर्धारित प्रोडक्शन की अनुमति के साथ उद्योग चालू हो गए थे। शहर का सबसे बड़ा ग्रेसिम उद्योग को 11 मशीन में से 4 मशीन चालू करने की अनुमति दी गई थी। इसके चलते उद्योग प्रबंधक ने तीन शिफ्ट की जगह दो शिफ्ट में ही काम चलाया जा रहा था, इसमें लगभग 850 मजदूर काम पर जा रहे थे। बुधवार को प्रबंधक ने निर्णय लिया की गुरूवार से तीन शिफ्ट 8-8 घंटे की कर दी जाएंगी। हालांकि इसमें श्रमिकों के काम पर जाने की बढ़ोत्तरी सिर्फ 25 श्रमिकों की होगी। शासन के प्रोडेक्शन बढ़ाने के आदेश आने के बाद आवश्यकतानुसार श्रमिकों को काम पर बुलाया जाएगा।

कुछ बचे ठेका श्रमिकों के भी वेतन का निकाल होगा जल्द

वैसे केंद्र सरकार के आदेश का लगभग पालन सभी उद्योगों द्वारा किया जा रहा है। सशर्त उद्योग चालू कर लिए। जिन श्रमिकों को काम पर नहीं बुलाया जा रहा है, वह भले ही बदली-स्थायी व ठेका श्रमिक हो सभी को कुछ अलाउंस छोड़कर वेतन घर बैठे दिया जा रहा है। अप्रैल माह के वेतन के साथ ठेेकेदार द्वारा श्रमिकों को बोनस 9 करोड़ 78 लाख रूपये का वितरण कर दिया गया है। जिससे ठेेका श्रमिकों को आर्थिक मदद मिल गई है। कुछ श्रमिक जो 22-23 को काम पर नहीं गए थे उनका मामला अभी अटका हुआ है। प्रबंधक के अनुसार कुछ 100-150 ठेका श्रमिक बचे हैं, उनका भी निकाल जल्द ही कर दिया जाएगा।

इनका कहना

गुरूवार से तीन शिफ्ट कर दी गई हैं। अब श्रमिक को 8 घंटे ही काम करना पड़ेगा। शासन के आदेश प्रोडक्शन बढ़ाने के बाद आवश्यकतानुसार श्रमिकों को काम पर बुलाया जाएगा।

संजय व्यास, जनसंपर्क अधिकारी ग्रेसिम उद्योग नागदा

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co