Ganjbasoda Accident Update : एक बालक को बचाने गए 35 से अधिक लोग कुएं में गिरे
गंजबासौदा हादसा : बचाव कार्य करती एनडीआरएफ, एसडीआरएफ और पुलिस की संयुक्त टीमSyed Dabeer Hussain - RE

Ganjbasoda Accident Update : एक बालक को बचाने गए 35 से अधिक लोग कुएं में गिरे

गंजबासौदा, मध्यप्रदेश : प्रदेश के विदिशा जिले की गंजबासौदा तहसील के गांव लाल पठार में हृदयविदारक घटना घटी। हादसे में 2 लोगों की मौत हुई है, 23 लोगों को कुएं से निकाला जा चुका है।

गंजबासौदा, मध्यप्रदेश। प्रदेश के विदिशा जिले की गंजबासौदा तहसील के गांव लाल पठार में गुरुवार शाम करीब सात बजे एक हृदयविदारक घटना घटी। गांव के ही एक बच्चे रवि की कुएं में गिरने की सूचना पर बड़ी संख्या में ग्रामीण उसे निकालने कुएं की छत पर खड़े हुए थे, जिससे छत भरभरा कर गिर गई और 30 से अधिक लोग कुएं में गिर गए। इसके बाद आनन-फानन में गांव के अन्य लोगों ने बचाव कार्य शुरू किया, बावजूद इसके रात साढ़े दस बजे तक 23 लोगों को कुएं से निकाला जा सका है।

एनडीआरएफ, एसडीआरएफ और पुलिस की संयुक्त टीम रेस्कयू आपरेशन में लगी हुई है। इसी दौरान कुएं को खाली करते समय उसकी दीवार भी धसक गई, जिससे बचाव कार्य प्रभावित हुआ है। इस दौरान बचाव में लगे होमगार्ड के दो जवान ट्रैक्टर और डीजल पंप समेत कुएं में गिर गए। हालांकि दोनों जवानों को निकाल लिया गया। देर रात 3:55 बजे खबर लिखे जाने तक कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की गई थी, पर माना जा रहा है कि इस हादसे में पांच से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है जिसमें बच्चा रवि भी शामिल है।

कैसे हुआ हादसा :

सूत्रों ने बताया कि गुरुवार शाम को पानी भरने गया एक बालक रवि कुएं में गिर गया था। यह कुआं करीब 30 फीट गहरा है, जिसमें करीब 20 फीट तक पानी भरा हुआ था। बालक को निकालने करीब 40 से अधिक लोग कुएं पर पहुंच गए। इस कुएं पर लोहे की गाटर डालकर सीमेंट की छत डाल दी थी। पानी भरने के लिए सिर्फ बीच का हिस्सा खुला था। बच्चे को निकालने पहुंचे लोग इस छत पर चढ़ गए। भीड़ के दबाव से दोनों तरफ की छत कुएं में गिर गई। इसके चलते छत पर खड़े लोग भी कुएं के पानी में जा गिरे।

जानकारी मिलते ही आसपास के ग्रामीणों के अलावा पुलिस और जिला प्रशासन के अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर बचाव कार्य शुरू करवाया। कुएं में तैरते दिख रहे पांच से छह लोगों को बाहर निकालने के साथ डीजल पंप और फायर ब्रिगेड से कुएं को खाली करवाने का काम शुरू किया गया। उसी दौरान कुएं की दीवार भी धसक गई। इससे बचाव कार्य प्रभावित हो गया और शेष लोग कुएं में दबे रहे। बाद में पोकलेन मशीन से कुएं का मलबा निकालने का काम शुरू किया गया। मौके पर मौजूद संभागीय कमिश्रर कवींद्र कियावत ने 20 लोगों के बचा लेने की पुष्टि की। इनमें से 14 को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्होंने कहा कि जब तक बचाव कार्य पूरा नहीं हो जाता, कैजुअल्टीज के बारे में कहना मुश्किल है।

मुख्यमंत्री स्वयं कर रहे हैं मॉनिटरिंग :

घटना की जानकारी मिलते ही विदिशा में अपनी बेटियों के विवाह में व्यस्त मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी बचाव के लिए सक्रिय हो गए। उन्होंने तत्काल विवाह स्थल से ही प्रदेश के मुख्य सचिव, डीजीपी और एसडीआरएफ के डीजी से बात की। मुख्यमंत्री ने घटनास्थल पर मौजूद कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक से चर्चा कर घटना के संबंध में जानकारी ली और रेस्क्यू ऑपरेशन को तीव्र गति से चलाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि राहत एवं बचाव कार्य के लिए भोपाल से एसडीआरएफ और एनडीआरएफ की टीम एवं आवश्यक उपकरण पहुंचाए जा रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने दो लोगों के निधन पर जताया शोक :

गंजबासौदा में हुई दुर्घटना में दो लोगों के निधन की सुचना पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने शोक जताते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी अर्पित की हैं। उन्होंने ट्वीट कर कहा, "गंजबासौदा में हुई दुर्घटना में अब तक दो लोगों के निधन की दुःखद सूचना मिली है, उनके शव निकाले जा चुके हैं। मैं उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करता हूँ और ईश्वर से प्रार्थना करता हूँ कि वे दिवंगत आत्माओं को शांति दें। बचावकार्य अभी जारी है, मैं लगातार मॉनिटरिंग कर रहा हूँ।"

विश्वास सारंग पहंचे घटना स्थल पर :

जिले के प्रभारी मंत्री विश्वास सारंग, संभागायुक्त कवींद्र कियावत और आईजी घटना स्थल पर हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान विवाह स्थल को ही कंट्रोल रूम में बदल कर राहत एवं बचाव कार्यों की मॉनिटरिंग कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने इस दुर्घटना की उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए हैं।

विश्वास सारंग पहंचे घटना स्थल पर
विश्वास सारंग पहंचे घटना स्थल परRaj Express

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co