अच्छी खबर : कोलार की जिस लाईन से सप्लाई बंद है, उसे जोड़ दिया है
कोलर लाइन को जोड़ा गयाIrshad Qureshi - RE

अच्छी खबर : कोलार की जिस लाईन से सप्लाई बंद है, उसे जोड़ दिया है

भोपाल, मध्यप्रदेश : कोलार डेम के नजदीक ब्रेक प्रेशर टैंक की क्षमता 16.50 लाख लीटर की है और 1650 एमएम व्यास की ग्रेविटी लाईन को ब्रेक प्रेशर टैंक से जोड़ने का काम किया जा रहा है।

भोपाल, मध्यप्रदेश। कोलार डेम के नजदीक ब्रेक प्रेशर टैंक की क्षमता 16.50 लाख लीटर की है और 1650 एमएम व्यास की ग्रेविटी लाईन को ब्रेक प्रेशर टैंक से जोड़ने का काम किया जा रहा है। यह वही लाईन है, जिसकी वजह से राजधानी की 50 प्रतिशत आबादी को गुरूवार से पानी नहीं मिला। नगर निगम का दावा है कि ब्रेक प्रेशर टैंक की पूरी तरह क्लीनिंग हो चुकी है और जल्द ही बेल्डिंग कर इसे जोड़ दिया जाएगा। फिर टेस्टिंग होगी और प्रभावित इलाकों में शुद्ध पानी मिलने लगेगा।

दरअसल कोलार जलशोधन संयत्र में 6 पंप स्थापित हैं और 4 पंप चलाए जाते हैं। जबकि 2 पंपो को स्टैण्डबाय में रखा जाता है। इसी प्रकार कोलार में स्थापित रॉ वाटर पंप 1035 हार्स पावर और क्लीयर वाटर पंप 985 हार्स पावर का है। इसी लाईन में काम चल रहा है। जिसकी वजह से नए-पुराने शहर की 50 प्रतिशत आबादी को गुरूवार से पानी नहीं मिला है और रविवार तक यही स्थिति रहेगी। हालांकि वैकल्पिक व्यवस्था के लिए प्रभावित इलाकों में 50 से अधिक टैंकर लगाए गए हैं, लेकिन इससे भी रहवासियों की पूर्ति नहीं हो रही। नगर निगम ने भी दावा किया था कि नर्मदा और बड़े तालाब से सप्लाई जारी रहेगी, ताकि लोगों की परेशानी कम की जा सके। लेकिन दोनों ही स्त्रोत से कम प्रेशर और कम समय के लिए पानी सप्लाई हो रहा है।

दो दिन में ही मची त्राही-त्राही :

दो दिन में ही शहर की सड़कों पर पानी के लिए हाहाकार मच गया है। नगर निगम ने कोलार लाईन में शट-डाउन लिया है। लेकिन अब नर्मदा और बड़े तालाब की सप्लाई भी प्रभावित हो गई है। इसकी वजह से लोग सड़कों पर पानी के लिए उतर आए हैं। गौरतलब है कि कोलार लाईन में 60 घंटे का शट-डाउन लिया गया है। लेकिन नर्मदा परियोजना और बड़े तालाब की लाईन दुरूस्त हैं, इसके बाद भी दोनों स्त्रोतों से कम प्रेशर के साथ कम समय के लिए पानी छोड़ा जा रहा है। बीते दो दिनों से नर्मदा की कई टंकियों से पानी ही सप्लाई नहीं किया गया।

कमिश्नर ने कहा काम खत्म कर शुरू करें सप्लाई :

शुक्रवार को नगर निगम कमिश्नर केवीएस चौधरी अपर आयुक्त बाफना के साथ कोलार डेम पहुंचे। जहां नजदीक ही बने कोलार ब्रेक प्रेशर टैंक का जायजा लिया। अब तक हुए काम की कमिश्नर ने जानकारी ली और अधिकारियों से कहा कि काम पूरा कर जल्द सप्लाई शुरू करें।

स्मार्ट रोड पर हुआ लीकेज :

इधर शहर में फिर से लीकेज हो गया है। स्मार्ट रोड पर एनआईटीटीटीआर के पास हुए लीकेज की वजह से शहरवासियों को समस्या हो सकती है। इसको देखते हुए लाईन की खुदाई शुरू कर दी गई है। कमिश्नर ने अशोक पवार से इस लीकेज को लेकर चर्चा की।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.