Raj Express
www.rajexpress.co
वर्षो से शासकीय विद्यालय भवन को तरस रहे बच्चे
वर्षो से शासकीय विद्यालय भवन को तरस रहे बच्चे|Shashikant Kushwaha
मध्य प्रदेश

वर्षों से शासकीय विद्यालय भवन को तरस रहे बच्चे

सिंगरौली: वर्षों से शासकीय विद्यालय भवन को तरस रहे बच्चे, सरपंच-सचिव द्वारा राशि का कर लिया गया बंदर-बांट, मामला शासकीय विद्यालय पोखरी टोला का।

Shashikant Kushwaha

राज एक्सप्रेस। जिले के विकास खण्ड बैढन अंतर्गत संकुल सुहिरा के पोखरी टोला विद्यालय चार वर्ष से निर्माणाधीन हैं। बच्चे शासकीय विद्यालय को तरस रहे हैं। जबकि उक्त विद्यालय के लिये निर्माण एजेंसी पंचायत को चुना गया था, लेकिन सरपंच सचिव द्वारा उक्त राशि का पूरी तरह से बंदर-बांट कर लिया गया है। जहां मौके पर अभी भी निर्माण कार्य अधूरा पड़ा हुआ है। ऐसे में क्षेत्रीय जनता व विद्यालय में अध्ययन करने वाले बच्चों के अभिवावकों ने जिला पंचायत सीईओ का ध्यान कराते हुये सरपंच-सचिव के खिलाफ कार्यवाही की अपील की है।

जिले भर में आज भी कई ऐसी विद्यालय हैं जो भवन विहीन पड़े हुये हैं। जबकि इन भवनों के निर्माण के लिये लाखों करोड़ों रूपये का बजट दिया गया था। भवन निर्माण के नाम पर विद्यालय प्रबंधन के साथ-साथ पंचायत को निर्माण एजेंसी बनाया गया था, लेकिन स्कूल भवन निर्माण के नाम पर जमकर बंदर-बाट का खेल-खेला गया था। इस खेल में अधिकारी से लेकर पंचायत के प्रतिनिधियों तक पैसे का खेल-खेला गया है। दिखावे के लिये निर्माण कार्य शुरू तो कराये गये थे, लेकिन अधिकांश भवन आज भी निर्माण कार्य की बाट जोह रहे हैं। कई बार इन भ्रष्ट अधिकारियों व पंचायत के सरपंच सचिवों के खिलाफ शिकायत की गई। लेकिन उन शिकायतों को रद्दी टोकरी में डाल कर फाइलों को बन्द कर दिया गया। यही कारण है कि, आज तक ऐसे भ्रष्टाचारियों के खिलाफ कार्यवाही नही हो पाई है।