Raj Express
www.rajexpress.co
अतिथि विद्वानों को मिला भाजपा नेताओं का साथ
अतिथि विद्वानों को मिला भाजपा नेताओं का साथ|Deepika Pal - RE
मध्य प्रदेश

अनशन की जरुरत नहीं! मांगो के लिए विधानसभा में उठेगा मुद्दा: शिवराज

भोपाल, मध्यप्रदेश: प्रदेश में सहायक प्राध्यापकों की नियुक्ति से अतिथि विद्वानों पर छाया संकट, चल रहा है धरना- प्रदर्शन।

Deepika Pal

Deepika Pal

राज एक्सप्रेस। प्रदेशभर में सरकारी कॉलेजों के अतिथि विद्वानों के नियमितीकरण की मांग को लेकर सरकार के खिलाफ राजधानी के शाहजहांनी पार्क में लगातार धरना-प्रदर्शन किया जा रहा है। जिसमें अब अतिथि विद्वानों का साथ देने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव भी पहुंचे। इस संबंध में अतिथि विद्वानों को आश्वासन देते हुए कहा कि, हम पूरी ताकत के साथ आपकी मांगों को विधानसभा में उठायेंगे और सरकार के खिलाफ मांग पूरी न होने पर उग्र प्रदर्शन किया जाएगा।

अतिथि विद्वानों के साथ अन्याय होते नहीं देख सकता- पूर्व सीएम शिवराज

इस दौरान पूर्व मंत्री शिवराज ने मंच से अतिथि विद्वानों को संबोधित करते हुए कहा, कि- कमलनाथ जी को मुख्यमंत्री पद की शपथ लिए एक साल होने कोे आया है, मैं मुख्यमंत्री जी से मांग करता हूं कि बिना एक क्षण गंवाए, अतिथि विद्वानों के नियमितीकरण का आदेश जल्द जारी कीजिए। अतिथि विद्वान बहनों को पुलिस ने घसीट-घसीटकर वज्र वाहन में डाला था, उनके साथ बर्बरता और अन्याय होते नहीं देख सकता।

सरकार नहीं मानी तो होगा उग्र प्रदर्शन :

पूर्व सीएम शिवराज ने सरकार के खिलाफ हमला बोलते हुए कहा, कि- ये ऐसे लोग नहीं है जिन्हें कहीं से उठाकर अतिथि विद्वान बनाया गया हो, इनका चयन पारदर्शी प्रक्रिया से हुआ है। 25-25 साल से सेवा कर रहे हैं अब उम्र के इस पड़ाव पर कहां जाएगें सरकार इनके साथ न्याय करे।

साथ ही अतिथि विद्वानों को आश्वासित करते हुए कहा कि, आपको अपनी जायज मांगे मनवाने के लिए अनशन पर बैठने की जरुरत नहीं है। सरकार मांगे नही मानती है तो उग्र प्रदर्शन किया जाएगा।

नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने दिया विद्वानों का साथ :

इस मौके पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज के अलावा नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव भी अतिथि विद्वानों से मिलने पहुंचे। जहां विद्वानों की नियमितीकरण की मांगो को विधानसभा में उठाने की बात कही गई।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।