Raj Express
www.rajexpress.co
राज्य सरकार के खिलाफ अतिथि शिक्षकों ने किया प्रदर्शन
राज्य सरकार के खिलाफ अतिथि शिक्षकों ने किया प्रदर्शन|Raj Express
मध्य प्रदेश

भोपालः राज्य सरकार के खिलाफ अतिथि शिक्षकों ने किया प्रदर्शन

भोपाल, मध्यप्रदेशः राज्य के अतिथि शिक्षकों की नियमितिकरण की मांग को लेकर शुरू हुई न्याय यात्रा इंदौर से भोपाल के नीलम पार्क पहुंची, अर्ध नग्न होकर पहुंचे पुरूष अतिथि विद्वानों ने किया प्रदर्शन।

Deepika Pal

हाइलाइट्सः

  • अतिथि विद्वान की न्याय यात्रा इंदौर से पहुंची भोपाल।

  • वचन पत्र में कांग्रेस ने अतिथि विद्वान को दिया था वचन।

  • वचन पूरा न होने से खफा है अतिथि विद्वान।

  • अतिथि विद्वानों ने कमलनाथ सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश की राजधानी में अतिथि शिक्षकों ने नियमितिकरण की मांग को लेकर जहांगीराबाद के नीलम पार्क में धरना प्रदर्शन किया। अतिथि शिक्षकों द्वारा यह न्याय यात्रा इंदौर से शुरू होकर भोपाल पहुंची।

सरकार अपने वचनपत्र को भूलीः

यह न्याय यात्रा नियमितिकरण संघर्ष मोर्चे के तहत अतिथि विद्वानों के द्वारा निकाली जा रही है जिसके तहत अतिथि विद्वानो की मांग है कि,सरकार ने अपने चुनावी वचनपत्र में नियमित करने का आश्वासन दिया था लेकिन इस संबंध में अब तक कोई कार्रवाई नहीं हो सकी।

पूरे प्रदेश में 5 हजार से ज्यादा है अतिथि विद्वानः

बात करें तो पूरे प्रदेश में अतिथि शिक्षक 5 हजार से ज्यादा हैं, जिन्हें नियमित करने का आश्वासन कांग्रेस सरकार द्वारा दिया गया था लेकिन यह अब तक पूरा नहीं हो पाया है, जिसके चलते शिक्षकों में आक्रोश बढ़ा है इसलिए हजारों की संख्या में भोपाल के नीलम पार्क पहुंचकर कमलनाथ सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन किया गया।

नारेबाजी के साथ किया प्रदर्शनः

इस संबंध में महिला अतिथि विद्वानो ने जहां उच्च शिक्षामंत्री जीतू पटवारी से वचन निभाने की मांग करते हुए नारेबाजी की वहीं पुरूष अतिथि विद्वान ने नीलम पार्क के सामने अर्धनग्न होकर कमलनाथ सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया।

सरकार मांगे पूरी करेगी या जारी रहेगा अतिथि विद्वानो का विरोध प्रदर्शनः

इस मामले पर अब देखना यह है कि, अतिथि शिक्षक जहां हजारों की तादाद में अर्धनग्न होकर प्रदर्शन कर रहे हैं वह लगातार कमलनाथ सरकार के सत्ता में आने के बाद इनका प्रदर्शन जारी रहा अब देखने वाली बात यह होगी क्या उनकी मांगे पूरी होती है या यह प्रदर्शन अर्ध नग्न होकर ही खत्म होगा या सिर्फ एक दिखावे का रूप लेता है।