सिंधिया के गढ़ में पहुंचे भागवत
सिंधिया के गढ़ में पहुंचे भागवत|Social Media
मध्य प्रदेश

सिंधिया के गढ़ में पहुंचे भागवत, क्या बदलेगा सियासती रंग?

गुना, मध्यप्रदेश : सीएए को लेकर भाजपा द्वारा जनता के बीच जन जागरूकता अभियान लगातार है जारी, इसी के चलते आरएसएस प्रमुख भागवत पहुंचे दौर पर।

Deepika Pal

Deepika Pal

राज एक्सप्रेस। नागरिकता संशोधन कानून को लेकर भाजपा द्वारा जन जागरूकता अभियान और रैलियां लगातार की जा रही हैं इसके तहत ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत प्रदेश के जिले और महाराज सिंधिया के गढ़ गुना में पहुंचे हैं। दरअसल वे यहां पर दो दिवसीय होने वाले कार्यक्रम युवा संकल्प शिविर में शामिल होने आए हैं। इससे पहले संघ प्रमुख भागवत 2004 में गुना आए थे जिसके बाद वे अब 16 सालों बाद यहां आ रहे हैं।

सकारात्मक माहौल बनाने की ली जिम्मेदारी :

बता दें कि, इसके तहत देशभर में सीएए के पक्ष को जनता के समक्ष रखते हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने सकारात्मक माहौल बनाने और जनता के मन में कानून को लेकर फैली भ्रांतियों को दूर करने की जिम्मेदारी ली है। गुना में आयोजित कार्यक्रम में संघ प्रमुख भागवत जहां कॉलेज में छात्रों को संबोधित करेगे वहीं सीएए- एनआरसी की जानकारी देते गुए पुस्तकों का वितरण भी करेगे। बता दे कि इस कार्यक्रम में 16 जिलों के करीब 1700 छात्र पहुंचेगें जिन्हें ई-ट्री के माध्यम से स्वयंसेवक सोशल मीडिया के प्रचार- प्रसार के तरीके सिखाए जाएगें। इस शिविर को लेकर भारी पुलिस व्यवस्था तैनात की गई है।

बनाए गये विभिन्न जोन :

शिविर को लेकर तैयारियों में जहां पुलिस की व्यवस्था कड़ी की गई वही शिविर स्थल वीर सावरकर नगर को भील समुदाय के किसानों द्वारा ताड़ के पत्तों और बांस से तैयार किया गया है। साथ ही कई जोन भी बनाए गए है। दरअसल संघ प्रमुख भागवत प्रवास और दो दिवसीय शिविर के दौरान इन्हीं आवास में रहेगें। यह शिविर 2 फरवरी तक जारी रहेगा।

कांग्रेस विधायक चौधरी का सियासी तंज :

एक ओर जहां संघ प्रमुख भागवत के आने से विपक्ष और सियासी गलियारे में हलचल मच गई है वही कांग्रेस के विधायक कुनाल चौधरी ने तंज कसते हुए कहा कि, आरएसएस प्रमुख भागवत का प्रदेश में स्वागत है लेकिन जिस तरह से नफरत की राजनीति आरएसएस कर रही है वह नफरत दिल से खाली करके आए तो अच्छा होगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co