Raj Express
www.rajexpress.co
पंचायत ने परिवार का किया हुक्का पानी बन्द
पंचायत ने परिवार का किया हुक्का पानी बन्द|Shekhar Uppal
मध्य प्रदेश

गुना: पंचायत ने परिवार का किया हुक्का पानी बन्द

गुना, मध्यप्रदेश : देश सबसे बड़ी ताकत बनने जा रहा है, वहीं दूसरी तरफ एक परिवार का हुक्का पानी इसलिए बन्द कर दिया, क्योंकि उस घर की महिला किसी के साथ अपनी नाबालिग बच्ची को लेकर कही चली गई है।

Shekhar Uppal

राज एक्सप्रेस। देश सबसे बड़ी ताकत बनने जा रहा है वहीं दूसरी तरफ एक परिवार का हुक्का पानी इसलिए बन्द कर दिया, क्योंकि उस घर की महिला किसी के साथ अपनी नाबालिग बच्ची को लेकर कही चली गई है। अब घर वाले पुलिस के चक्कर लगा रहे हैं कि महिला मिल जाये तो समाज मे उठना बैठना शुरू हो जाये।

दरअसल पूरा मामला यह है

गुना जिले के मक्सूदनगढ़ के मोहरी पुरा गांव में करीब 1 महीने पहले प्रहलाद बंजारा की पत्नी समरी बाई अचानक अपनी 7 साल की बच्ची मीना बाई को लेकर कहीं भाग गई थी। जिस की रिपोर्ट प्रहलाद बंजारा द्वारा मक्सूदनगढ़ पुलिस थाने में दर्ज भी कराई गई थी । पर इस मामले में नया मोड़ तब आया जब बंजारा समाज की पंचायत बैठी और प्रहलाद बंजारा को उसके बच्चों और परिवार सहित पंचायत ने समाज से बहिष्कार कर दिया।

अचानक अपनी बच्ची को लेकर कहीं भाग गई थी
अचानक अपनी बच्ची को लेकर कहीं भाग गई थी
Shekhar Uppal

पंचायत ने फरमान सुनाते हुए कहा कि

प्रहलाद बंजारा की धर्मपत्नी जब तक वापस नहीं आ जाती तब तक प्रहलाद बंजारा उसके बच्चे और उसके पूरे परिवार का पंचायत द्वारा समाज से बहिष्कार किया जाता है । वहीं बहिष्कार करने के साथ ही प्रहलाद बंजारा उसके बच्चे और उसका पूरा परिवार जिस कुएं से पानी पिया करते थे, उस कुए पर भी पंचायत ने प्रतिबंध लगा दिया। पंचायत ने कहा कि अगर प्रहलाद बंजारा की धर्मपत्नी वापस आती है तो प्रहलाद बंजारा को दंड के तौर पर 70 हजार का जुर्माना भी भुगतना पड़ेगा ।

वही प्रहलाद बंजारा और उसके परिवार ने समरी बाई को ढूंढने के लिए दिन रात एक कर दिये। पर अब तक समरी बाई और 7 साल की बच्ची मीना बाई का कुछ पता नहीं चल पाया है। अब आलम यह है कि घरवालों से कोई बात नहीं करता न ही कोई पानी ही पीने दे रहा है। तालाब से पानी लेकर पीने को मजबूर है पूरा परिवार।

हैरानी की बात यह है कि-

जब लोग चांद पर पहुंच रहे हैं। इस जमाने में भी पंचायत द्वारा इस तरह के फरमान सुनाकर लोगों का बहिष्कार किया जा रहा है। प्रशासन से भी गुहार लगाने में डर रहे हैं कि कहीं बात और न बढ़ जाये।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।