ग्वालियर अग्निपथ फॉलोअप: अग्निपथ विरोध मामले में पुलिस का एक्शन, अब तक इतने गिरफ्तार
ग्वालियर अग्निपथ फॉलोअपSocial Media

ग्वालियर अग्निपथ फॉलोअप: अग्निपथ विरोध मामले में पुलिस का एक्शन, अब तक इतने गिरफ्तार

ग्वालियर में गुरुवार को अग्निपथ योजना को लेकर हजारों की संख्या में युवा एक जुट हुए और तोड़फोड़-आगजनी की। इस मामले में पुलिस ने एक पूर्व फौजी को गिरफ्तार किया है।

ग्वालियर, मध्यप्रदेश। केंद्र सरकार द्वारा 'अग्निपथ योजना' की घोषणा के बाद से देश के कई राज्यों में इसका विरोध हो रहा है। इस योजना को लेकर मध्य प्रदेश के ग्वालियर जिले में विरोध देखने को मिला। वहीं, अग्निपथ योजना के विराेध में शहर में हुए उपद्रव के मामले में पुलिस ने उपद्रवियाें की पहचान कर, उन्हें गिरफ्तार कर ररही है। वहीं, इस मामले में पुलिस ने एक और शख्स को गिरफ्तार किया है।

'अग्निपथ' उपद्रव मामले में ट्रेनर मनोज फौजी गिरफ्तार:

बता दें कि, ग्वालियर में 16 जून को अग्निपथ योजना के विरोध में हुए विरोध प्रदर्शन के मामले में पुलिस ने फिजिकल ट्रेनर मनोज फौजी को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि, पूर्व फौजी मनोज ने सेना की तैयारी कर रहे युवाओं को भड़काया और उसके बाद उन्हें गोले का मंदिर पर एक जुट होने के लिए कहा। सीसीटीवी में उपद्रव के दौरान पूर्व फौजी मनोज के खिलाफ सबूत मिले हैं। इसी आधार पर एफआईआर दर्ज की गई और आज उसे गिरफ्तार कर लिया है।

इस बारे में बात करते हुए पुलिस ऑफिसर ऋषिकेश मीणा ने बताया कि, मनोज पूर्व सैनिक है। 16 जून को जब गोले का मंदिर और बिरला नगर रेलवे स्टेशन पर उपद्रव हुआ, उस दौरान भी मनोज की मौजूदगी के सबूत CCTV में मिले हैं। गोले के मंदिर पर उसने भड़काऊ बयान दिए थे। इसके बाद ही यहां उपद्रव हुआ था। मनोज फौजी के खिलाफ FIR की गई थी, उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। फिलहाल अभी आरोपी से पूछताछ जारी है।

ये है मामला:

बता दें कि, सरकार द्वारा 14 जून को सेना में भर्ती के लिए 'अग्निपथ' स्कीम की घोषणा के बाद इसका विरोध किया जा रहा है। इस स्कीम को लेकर बीते दिन 16 जून को ग्वालियर में विरोध देखने को मिला। ग्वालियर में उपद्रव की शुरुआत सुबह 10 बजे से शुरू हो गई थी। 10 बजे से गोला का मंदिर चौराहा पर भीड़ जुटी। आक्रोशित युवाओं ने ट्रैफिक को रोक दिया। कुछ देर में प्रदर्शन उग्र हो गया। गोला का मंदिर से उपद्रवी बिरला नगर रेलवे स्टेशन पर पहुंच गए और हंगामा शुरू कर दिया। स्टेशन पर तोड़फोड़, आगजनी की गई थी।

इसके बाद पुलिस प्रशासन सतर्क हो गया है, इस हिंसा के पीछे कोचिंग संचालकों की भूमिका भी सामने आ रही है। जिले में संचालित होने वाले फिजिकल व्हाट्सएप ग्रुप पर युवा को बताया गया और एक जगह इकट्ठा होने के लिए कहा गया। पुलिस प्रशासन ने इस मामले में अब तक कई लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। बीते दिन शुक्रवार काे गाेला का मंदिर और पड़ाव थाना पुलिस ने जिन लाेगाें काे गिरफ्तार किया गया था, उन्हें जेल भेज दिया गया है।

ग्वालियर अग्निपथ फॉलोअप
Gwalior Angipath Protest Update : रेलवे ट्रैक पर टायर जलाकर रोकी ट्रेन, शहर में भारी तोड़फोड़
ग्वालियर अग्निपथ फॉलोअप
अग्निपथ का विरोध: ग्वालियर में छात्रों ने बीच सड़क पर टायर जलाकर किया प्रदर्शन

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co