ग्वालियर : राजनीतिक हमलों से बचने बीजेपी विधायकों को देगी ट्रेनिंग
राजनीतिक हमलों से बचने बीजेपी विधायकों को देगी ट्रेनिंगManish Sharma

ग्वालियर : राजनीतिक हमलों से बचने बीजेपी विधायकों को देगी ट्रेनिंग

ग्वालियर, मध्यप्रदेश : उज्जैन में 12 व 13 फरवरी को होने वाले दो दिवसीय भाजपा विधायकों और पदाधिकारियों के प्रशिक्षण कार्यक्रम का एजेंडा तय कर लिया गया है। एजेंडे में संगठन के विस्तार पर चर्चा होना है।

हाइलाइट्स :

  • उज्जैन में 12 व 13 फरवरी को होगा प्रशिक्षण कार्यक्रम

  • प्रशिक्षण में 37 विधायक लेंगे भाग

ग्वालियर, मध्यप्रदेश। उज्जैन में 12 व 13 फरवरी को होने वाले दो दिवसीय भाजपा विधायकों और पदाधिकारियों के प्रशिक्षण कार्यक्रम का एजेंडा तय कर लिया गया है। इस एजेंडे में संगठन के विस्तार के साथ राजनीतिक परिदृश्यों पर खास चर्चा होना है जिसमें प्रदेश के अलग-अलग क्षेत्रों में प्रभाव डालने वाले जयस, गोंडवाना, मिशनरीज एक्टिविटीज के आधार पर पार्टी की रणनीति तय होगी। यह प्रशिक्षण उन 37 विधायकों के लिए भी खास माना जा रहा है जो पहली बार के विधायक हैं। इनमें से 19 विधायक वे हैं जो सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ भाजपा में आए और भाजपा से निर्वाचित एमएलए हैं।

प्रशिक्षण वर्ग में संचालन व्यवस्था और एजेंडे पर दो दिन पहले चर्चा हो चुकी है। सूत्रों के मुताबिक प्रदेश के राजनीतिक परिदृश्य पर भी खासतौर पर चर्चा होगी। इसमें जयस, गोंडवाना गणतंत्र पार्टी, मिशनरी प्रभाव के अलावा विन्ध्य प्रदेश को लेकर उठाई जा रही आवाज और अन्य ऐसे मामलों पर विचार रखे जाएंगे जो आने वाले दिनों में सामाजिक, राजनीतिक असर डालेंगे। इसके अलावा पार्टी की रीति-नीति और विचार, व्यक्तित्व विकास, एकात्म मानव दर्शन, विधायक कार्यालय का प्रबंधन, कोविड काल में संगठन की सेवा और सरकार बनने की स्थिति में हुए कामों पर भी चर्चा होगी।

यहां बता दें कि भाजपा का यह प्रशिक्षण पहले पचमढ़ी में होना तय था लेकिन मंत्री, विधायक और उनके स्टाफ के लिए पर्याप्त जगह की कमी और 14 फरवरी वेलेंटाइन डे पास होने के कारण यहां पर्यटकों की भीड़ के मद्देनजर इसका स्थान बदल दिया गया।

सिंधिया समेत 19 समर्थक एमएलए भी होंगे शामिल :

यह प्रशिक्षण भाजपा के पहली बार के विधायकों के लिए खास माना जा रहा है क्योंकि 2018 के बाद पहला ऐसा मौका है जब पार्टी की रीति-नीति और विचार पर सामूहिक मंथन में वे शामिल रहेंगे। इसमें 2018 में पार्टी की टिकट पर जीतने वालों के अलावा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ भाजपा में शामिल होकर विधायक और मंत्री बने 19 एमएलए भी शामिल हैं। इसमें पहले दिन सांसद सिंधिया भी शामिल होंगे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co